रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर

कर्नाटका प्रीमियर लीग (KPL) स्पॉट फिक्सिंग मामले की जांच में जुटी सिटी क्राईम ब्रांच की टीम ने कर्नाटका स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन (केएससीए) से आईपीएल के पिछले दो सीजन में बैगलोर में हुए सभी मैचों की रिपोट सौपने कप कहा है.

सूत्रों के अनुसार सिटी क्राईम ब्रांच की टीम ने कर्नाटका स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन से केपीएल स्पॉट फिक्स्सिंग मामले में जो 18 सवाल किये उनमें से एक सवाल आईपीएल से भी ताल्लुख रखता है.

क्राईम ब्रांच के ज्वाइंट कमिश्नर संदीप पाटिल ने इंडिया टुडे को दिए अपने इंटरव्यू में बताया

केपीएल स्पॉट फिक्सिंग जांच में कुछ टीम मालिकों तथा कई टीम कोच की भूमिका का पता चला है . इसी कारण केएससीए तथा केपीएल के सभी टीम प्रबंधन को एक नोटिस भेज दिया गया है. नोटिस में 18 प्रश्न हैं इन्हे उन सभी प्रश्नों के जवाब देने हैं.

संदीप पाटिल ने आगे कहा

सीसीबी ने केपीएल लीग तथा इसके सभी स्टेक होल्डर्स के विवरण की पूरी जानकारी के लिए केएससीए तथा केपीएल की सभी फ्रेंचाइजीयों को एक पत्र लिखा है. सीसीबी ने 2018-19 में खेले गए सभी खिलाड़ियों के स्कोरकार्ड, नाम, सम्पर्क विवरण की भी पूरी रिपोर्ट मांगी है.

KPL स्पॉट फिक्सिंग के बाद शक के घेरे में विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर 2

म्रुथंजया ने कहा हम KPL स्पॉट फिक्सिंग मामले में सीसीबी का पूरा सहयोग कर रहें हैं

केएससीए के अधिकारिक प्रवक्ता विजय म्रुथंजया ने कहा कि हमें सीसीबी की तरफ से प्रश्नों का एक पत्र मिला है जिसके ज्यादातर जवाब हम दे चुकें हैं. और जो प्रश्न बचे हैं उनके जवाब हम एक से दो दिन के भीतर दे देंगे. केएससीए इस जाँच में सीसीबी का पूरा सहयोग कर रही है.

आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए खेल चुकें हैं सीएम गौतम

घरेलु क्रिकेट के स्टार क्रिकेटर सी एम गौतम तथा अबरार क़ाज़ी को इस स्पॉट फिक्सिंग में कथित रूप से शामिल होने के लिए गिरफ्तार किया जा चूका है. सी एम गौतम आईपीएल में मुंबई इंडियन की ओर से खेल चुके हैं.