क्रुणाल पांड्या ने इन्हें दिया अपने बेहतरीन प्रदर्शन का श्रेय, बताई अपनी ख्वाहिश 1

मुम्बई इंडियंस और बड़ोदरा के ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या में पिछले साल वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज में अपना इंटरनेशनल डेब्यू किया था। उसके बाद से वह लगातार भारतीय टीम का हिस्सा हैं। उन्होंने इन मैचों में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। वेस्टइंडीज के हालिया दौरे पर टी20 सीरीज में उन्हें प्लेयर ऑफ द सीरीज का अवार्ड मिला था। इसके बावजूद अन्य किसी फॉर्मेट में खेलने का मौका नहीं मिला है।

क्रुणाल पांड्या ने बताई अपनी ख्वाहिश

क्रुणाल पांड्या

वेस्टइंडीज सीरीज में गेंद और बल्ले से बेहतरीन प्रदर्शन के बाद क्रुणाल पांड्या का कहना है कि वह सभी फॉर्मेट में देश के लिए खेलना चाहते हैं। वह आने वाले समय में खुद को अन्य फॉर्मेट में भी खेलते देखना चाहते हैं। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा

क्रुणाल पांड्या ने इन्हें दिया अपने बेहतरीन प्रदर्शन का श्रेय, बताई अपनी ख्वाहिश 2

“विंडीज सीरीज बड़ा आत्मविश्वास बढ़ाने वाला था। यह सीज़न की पहली सीरीज थी और कुछ गुणवत्ता वाले खिलाड़ियों के खिलाफ हमेशा अच्छा करने में मदद करता है। यह सिर्फ शुरुआत है और मैं इसे अगली सीरीज में प्रदर्शन को आगे ले जाऊंगा। अपने लक्ष्य के प्रति सच्चे रहना और प्रारूपों में खेलना। यह फोकस का क्षेत्र है और मैंने पिछले दो वर्षों में भारत ‘ए’ के लिए एक दिवसीय मैच खेला है और अनुभव ने मुझे विश्वास दिलाया है कि मैं चुनौती के लिए उठ सकता हूं।”

इन्हें दिया श्रेय

क्रुणाल पांड्या ने इन्हें दिया अपने बेहतरीन प्रदर्शन का श्रेय, बताई अपनी ख्वाहिश 3

क्रुणाल पांड्या ने अपने प्रदर्शन और खेल की समझ को बेहतर करने का श्रेय राहुल द्रविड़ और पारस महाम्ब्रे को दिया है। पांड्या के अनुसार राहुल द्रविड़ से बात करने से क्रिकेट के बारे में काफी जानकारी मिलती हैं। उन्होंने कहा

“राहुल द्रविड़ और पारस महाम्ब्रे के साथ मिलकर काम करने से मदद मिली है। जबकि पारस भाई ने मेरे गेंदबाजी कौशल को ठीक करने में मेरी मदद की है, राहुल भाई से बात करना बस आपको अधिक जानकार क्रिकेटर बनाता है। उनके क्रिकेटिंग दिमाग को समझने से अनुभव मिलता है। मैंने चर्चा करने की कोशिश की है कि किसी स्थिति पर कैसे प्रतिक्रिया दी जाए और इससे मदद मिलती है। मैं सभी प्रारूपों में भारत के लिए खेलना चाहता हूं और अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं।”