in ,

कृणाल पंड्या ने आईपीएल में 8.80 करोड़ में बिकने के बाद दिया ये धमाकेदार इंटरव्यू, कहा…

भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या के बड़े भाई कृणाल पंड्या को आईपीएल नीलामी में मुंबई इंडियन की टीम ने 8.8 करोड़ की मोटी कीमत देकर अपनी टीम में शामिल किया. मुंबई इंडियन की टीम ने कृणाल पंड्या के लिए राईट टू मैच कार्ड (आरटीएम) का इस्तेमाल किया.

मुंबई की टीम द्वारा रिटेन किये जाने के बाद कृणाल पंड्या ने एक बड़ा ही रोचक इंटरव्यू मिड डे को दिया है. जिसमे उन्होंने कहा है, कि उन्हें पूरी उम्मीद थी, कि मुंबई इंडियन की टीम उनके लिए आरटीएम कार्ड का इस्तेमाल करेगी.

पत्रकार- क्या आपकों आईपीएल नीलामी में प्राप्त हुई राशि से आश्चर्य हुआ है?

कृणाल पंड्या – “ईमानदारी से कहू, तो मैं आश्चर्यचकित नहीं हूं. मैं ऐसी ही धनराशी की उम्मीद कर रहा था, क्योंकि पिछले दो सत्रों में मैंने जिस तरह से प्रदर्शन किया है. मैंने 2016 आइपीएल में 237 रन और 6 विकेट, 2017 आईपीएल में 243 रन और 10 विकेट लिए थे, इसलिए मुझे एक अच्छी राशी की पूरी उम्मीद थी.

हाँ, मुझे चिंता इस बात की हुई कि मेरी नीलामी में बारी देर से आई थी. मुझे तब ऐसा लग रहा था, कि मैं उच्च मूल्य के लिए नहीं जाऊंगा.

सबसे बड़ी बात यह है, कि मैं भी केवल मुंबई के लिए ही खेलना चाहता था मुझे विश्वास था, कि वह मेरे लिए आरटीएम कार्ड का इस्तेमाल करेंगे, लेकिन अंत में यह एक नीलामी है और यहां कुछ भी हो सकता है.”

पत्रकार- क्या आप पर इस बड़ी राशी का कुछ प्रेशर रहेगा?

कृणाल पंड्या – नहीं, ऐसा बिलकुल नहीं है मेरे उसमे इस बड़ी राशी का कोई प्रेशर नहीं रहेगा. जब मैं पहला सीजन मुंबई के लिए खेला था तो भी मुझे सिर्फ मुंबई ने 2 करोड़ की कीमत में खरीदा था और तब मैंने सिर्फ सयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी ही खेली थी.

पत्रकार- हार्दिक के साथ फिर से खेलने पर कैसा महसूस कर रहे हो?

कृणाल पंड्या – यह सोने पे सुहागा जैसा है. हमने हमेशा क्लब, राज्य से साथ खेला है और अब हम आईपीएल में भी साथ खेलते है यह बहुत अच्छा है.

पत्रकार- ‘इंडिया ए’ के साउथ दौरें पर लगी चोट से आपको कितनी निराशा हुई.

कृणाल पंड्या – मैं विजय हजारे ट्रॉफी में बड़ौदा के लिए सर्वाधिक विकेट लेने वाला और रन बनाने वाला खिलाड़ी था. जिस समय मैं फिट था, मैंने सभी टूर्नामेंट में खेला और मैं दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत ‘ए’ के लिए भी खेलने गया था. मैंने वहां भी अच्छा किया पहले गेम के अलावा,

हाँ, आखिरी गेम में मुझे चोट आ गई थी और मुझे अपनी इस चोट को ठीक करने के लिए लगभग चार से पांच महीने लग गए थे. मैं वहां अच्छा प्रदर्शन करके भारत के लिए खेल सकता था, लेकिन मुझे लगता है कि मेरी चोट ने मेरे मौके को बाधित कर दिया था.

पत्रकार- जब आपकों चोट लगी तो आपने इसकों कैसे हैंडल किया.

कृणाल पंड्या –  जब चोट लगती है तो निराशा जरुर होती है, लेकिन मैंने ऐसे समय पर अपने को मानसिक रूप से काफी मजबूत रखा. मेरा कंधा चोटिल था मैंने इसकी सर्जरी कराई. यह समय वाकई मैं मेरे लिए काफी चुनौतीपूर्ण था.

पत्रकार-  भारत के लिए खेलने के अपने उद्देश्य के बारे में बताएं?

कृणाल पंड्या – मेरा सपना भारत का प्रतिनिधित्व करना है. मैं छह साल से अपने देश के लिए खेलने का सपना देखा, लेकिन मैं सिर्फ एक या दो गेम में भारत के लिए खेलना नहीं चाहता हूं. मैं उस स्तर पर लगातार खेलना चाहता हूं और यही मेरा अब अगला उद्देश्य है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

T-20I रैंकिंग : विराट कोहली को पछाड़ते हुए बाबर आजम बने नंबर एक टी20 बल्लेबाज, देखे टी20 रैंकिंग की पूरी सूची

IPL AUCTION: इन गेंदबाजों ने हासिल की रिकॉर्ड तोड़ रकम, सबसे आगे रहा इस दिग्गज का नाम