IPL 2018: क्रुणाल पांड्या के अनुसार इस कारण इस ग्राउंड पर बल्लेबाजी करना है बेहद आसान

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

IPL 2018: क्रुणाल पांड्या ने बताया हार्दिक के साथ बल्लेबाजी करने में क्यों महसूस होता है दबाव 

IPL 2018: क्रुणाल पांड्या ने बताया हार्दिक के साथ बल्लेबाजी करने में क्यों महसूस होता है दबाव

कल रात मुंबई इंडियंस ने किंग्स इलेवन पंजाब को हरा दिया है और अब लगातार दो मुकाबलों में जीत हासिल करके अच्छी वापसी की है। यह मैच क्रुणाल पांड्या की आखिर में शानदार बल्लेबाजी के चलते टीम को जीत मिली है।

इसी बीच आपको बता दें कि कल खेले गए मुकाबले में मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीता था और पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया था।

IPL 2018: क्रुणाल पांड्या ने बताया हार्दिक के साथ बल्लेबाजी करने में क्यों महसूस होता है दबाव 1
(Photo by: Rahul Gulati /SPORTZPICS for BCCI)

मैच में किंग्स इलेवन ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 174 रन बनाये थे जिसमें क्रिस गेल ने फिर से अच्छी बल्लेबाजी करते हुए 50 रन बनाये। इसके बाद 175 रनों का पीछा करने उतरी शुरुआत ज्यादा अच्छी तो नहीं रही लेकिन सूर्यकुमार यादव ने अच्छी बल्लेबाजी करते हुए फिफ्टी जड़ी जिससे टीम को जीत की उम्मीद हुई। आखिर में क्रुणाल और रोहित ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए मैच जीता दिया।

जीत के बाद क्या बोले क्रुणाल पांड्या

उन्होंने कहा है कि जीत के बाद वो बहुत खुश है और मुंबई ने अच्छी वापसी की है। वहीं उन्होंने कहा,

“जब वह (हार्दिक) खेल रहा होता है तो मुझे दबाव महसूस होता है। जब मैं खेल रहा हूं, तो वह बाहर दबाव महसूस करता है। यह भाइयों का बंधन है। हम पिछले कुछ मैचों में पहले जीतने की स्थिति में रहे हैं और अंत में, हमने आज मैच जीत ही लिया। अच्छा लगता है कि मैंने बल्ले के साथ योगदान दिया।”

IPL 2018: क्रुणाल पांड्या ने बताया हार्दिक के साथ बल्लेबाजी करने में क्यों महसूस होता है दबाव 2
(Photo by: Rahul Gulati /SPORTZPICS for BCCI)

इसके बाद क्रुणाल ने कहा,

“आरसीबी के खिलाफ आखिरी गेम, मैं खुद को परेशान महसूस कर रहा था कि मैंने टीम को जिताने में मदद नहीं की, लेकिन मैं आज खुश हूँ क्योंकि मैंने अच्छी बल्लेबाजी की, हालांकि यह ग्राउंड थोड़ा छोटा जरूर है। इससे एक बल्लेबाज के रूप में आपको ज्यादा आत्मविश्वास मिलता है। रोहित के साथ बल्लेबाजी करना अच्छा और उनके साथ चैटिंग करना सरल था, वह भी गेंद को अच्छी तरह से मार रहे थे।”

इस प्रकार क्रुणाल पांड्या के अनुसार इंदौर का यह होलकर स्टेडियम बहुत ही छोटा है इस कारण बल्लेबाजों के लिए बहुत आसान है और वहीं हुआ और मुंबई नें लक्ष्य 19 ओवर में ही पूरा कर दिया। अब इस जीत के साथ मुंबई की अंक तालिका में अच्छा सुधार हुआ है और अब जहाँ पहले 8 वें नम्बर पर भी अब 5 वें पायदान पर आ गयी है।

Related posts

Leave a Reply