कुलदीप यादव

भारतीय टीम के लिए एक समय प्रमुख स्पिनर रहे कुलदीप यादव के लिए 2019 का वर्ष बहुत अच्छा नहीं गया. आईपीएल में ख़राब प्रदर्शन के बाद कुलदीप यादव ने कुछ समय के लिए टी20 टीम में अपनी जगह गँवा दी थी. अब कुलदीप यादव ने कहा है की पिछले साल की गयी गलतियों से सीख ले रहा आगे नहीं करने का करूँगा प्रयास.

कुलदीप यादव ने कहा अपनी गलतियों से सीख रहा

कुलदीप यादव

2019 में कुलदीप यादव का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा. उन्हें आईपीएल टीम के प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली और फिर से टी20 टीम से बाहर किया गया. जिसके बारें में बोलते हुए कुलदीप यादव ने प्रेस कांफ्रेस में कहा कि

” 2019 मेरे लिए बहुत मुश्किल रहा था. बहुत कुछ मुझे सीखने को मिला. जो मेरे लिए सबसे सकारात्मक रहा वो मुझे बाद में समझ आया की मैं जितने भी मैच खेला उसमें अगर थोड़ा और सोचता और योजना के साथ खेलता या थोड़ा मैदान पर समय लेता तो और बेहतर प्रदर्शन कर पाता. ये मेरे लिए बहुत कुछ सीखने के लायक रहा पिछले साल की गलती मैं इस साल नहीं दोहराऊंगा. साल 2020 में हर मैच में मैं ज्यादा योजना के साथ खेलूँगा.”

कुलदीप यादव ने बताया 2019 की अपेक्षा क्यों 2020 में मिल रही है ज्यादा सफलता 1

युजवेंद्र चहल और अपनी जोड़ी पर बोले कुलदीप यादव

कुलदीप यादव ने बताया 2019 की अपेक्षा क्यों 2020 में मिल रही है ज्यादा सफलता 2

लंबे समय से यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी एक साथ नहीं खेल रही है. जिसके बारें में बोलते हुए कुलदीप ने कहा कि

” लंबे समय से भारत एक स्पिनर के साथ ही खेलता हुआ नजर आ रहा है. पिछले कुछ सीरीज में यही नियम चला है. मुझे नहीं पता है की टीम मैनेजमेंट इसके बारें में क्या सोच रहा है. उम्मीद करता हूँ की जल्द हम लोग एक साथ खेलते हुए नजर आयेंगे. मुझे पूरा विश्वास नहीं है लेकिन कल तक अभी देखते हैं. कई और मैच आने वाले हैं जहाँ पर हम एक साथ खेलते हुए नजर आ सकते हैं.”

छोटे मैदान पर बोले कुलदीप यादव

जसप्रीत बुमराह

मैदान छोटा होने पर स्पिनरों के लिए कुछ खास नहीं होता. जिसके बारें में बोलते हुए कुलदीप यादव ने कहा कि

” जब आप इंदौर की तरह छोटे मैदान पर खेलते हैं. उस समय कुछ अलग सोचना पड़ता है अन्य बड़े मैदानों के अपेक्षा जैसे नागपुर में ऐसे मैदान पर आपको बल्लेबाज से दूर जाकर गेंदबाजी करनी होती है. जैसे मैंने कुसल परेरा के खिलाफ करने का प्रयास किया था.”