कुलदीप के शानदार प्रदर्शन के बाद कानपुर में छा गया जश्न का माहौल 1

भारतीय टीम के एकलौते चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने अपने अंर्तराष्ट्रीय टेस्ट कैरियर का पहला विकेट आस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला में चल रहे चौथे टेस्ट मैच में लिया। पहले मैच में पहला विकेट लेने कि खुशी मैदान से उनके घर तक पहुंच गई है। कानपुर के जाजमंऊ में कुलदीप का परिवार रहता है। कुलदीप के चौथे टेस्ट मैच में खेलने की खबर से उनके घर पर बधाई देने वालों का जमघट लग गया है।  ऑस्ट्रेलिया की तरफ से शानदार प्रदर्शन करने वाले नाथन लायन इस भारतीय गेंदबाज को मानते है अपना आदर्श

बॉर्डर गावस्कर सीरीज का चौथा टेस्ट मैच हिमाचल प्रदेश क्रिकेट ऐसोसियेशन ग्राउंड में खेला जा रहा है। इस मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली कंधे में लगी चोट की वजह से नहीं खेल रहे हैं। लिहाजा उनकी जगह कुलदीप को लिया गया है। इससे पहले भी कुलदीप टीम में शामिल थे लेकिन अंतिम एकादश में खेलने का मौका नहीं मिला था।

कुलदीप ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने टेस्ट कैरियर का पहला विकेट डेविड वार्नर का लिया है। उनके विकेट लेते ही कानपुर में जश्न का माहौल छा गया है। कुलदीप के पिता रामसिंह यादव ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, ”यह हमारे परिवार का सपना था कि कुलदीप भारत की ओर से खेले और अच्छा प्रदर्शन करे। हमारे लिए बहुत ही खुशी का दिन है।”   डेविड वार्नर ने दिया श्रद्धा कपूर और आलिया भट्ट को चेतावनी, कहा सावधान हो जाओ, वो आ रही है

कुलदीप के बचपन के कोच कपिल पाण्डेय ने कहा, ”कुलदीप के प्रदर्शन से मेरा सीना चौड़ा हो गया है। जिस बच्चे को मैनें बचपन में ट्रेनिंग दी थी, वो आज भारत की तरफ से खेल रहा है।” 

उन्होंने कहा, ”यह 10 साल का था तब मेरे पास आया था। उस दौरान बाकि बच्चों की तरह इसे भी क्रिकेट सीखाया करता था। लेकिन जब इसकी गेंदों को पिच घूमते देखा तब मुझे लगा कि यह कुछ खास कर सकता है। उसी समय से मैंने कुलदीप पर मेहनत करना शुरु कर दिया था। तब की मेहनत अब सफल हुई है।”