कुमार संगकारा ने 2009 के आतंकी हमले को लेकर दी प्रतिक्रिया

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पाकिस्तान पहुंचे के बाद भावुक हुए कुमार संगकारा, साल 2009 के आतंकी हमलों को लेकर कहा… 

पाकिस्तान पहुंचे के बाद भावुक हुए कुमार संगकारा, साल 2009 के आतंकी हमलों को लेकर कहा…

साल 2009 में विश्व क्रिकेट को दहला देने वाली घटना घटी थी। इस साल मार्च में पाकिस्तान में भ्रमणकारी टीम श्रीलंका की बस पर आतंकी हमले को कौन भूल सकता है? ये घटना क्रिकेट फैंस के जेहन में तो आज तक बनी हुई है तो वहीं ये सोचने वाली बात ये कि आखिर उस दौरान श्रीलंका की टीम बस में मौजूद खिलाड़ियों के मन में कैसा खौफ रहा होगा या अब तक कैसे वो इस घटना को याद करते होंगे।

साल 2009 के आतंकी हमले का कर चुके हैं कुमार संगकारा सामना

श्रीलंका पर हुए इस आतंकी हमले में कुछ लंकाई खिलाड़ियों को चोटे आयी थी तो वहीं बाकी के खिलाफ सही सलामत तो रहे लेकिन उन्होंने जिस तरह से अपनी आंखों के सामने मौत को देखा था वो पल उनके जेहन में कैसा होगा वो हम नहीं सोच सकते।

पाकिस्तान पहुंचे के बाद भावुक हुए कुमार संगकारा, साल 2009 के आतंकी हमलों को लेकर कहा... 1

क्योंकि इसका अनुभव तो उसी को होगा जिन्होंने इस भयानक स्थिति का सामना किया होगा। श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा भी उस वक्त श्रीलंका की टीम बस में मौजूद थे। हालांकि संगकारा को कोई भी हानि नहीं हुई।

कुमार संगकारा ने आतंकी घटना पर दी अपनी प्रतिक्रिया

श्रीलंका के पूर्व दिग्गज कुमार संगकारा उस घटना के बाद एक बार फिर से पाकिस्तान में खेलने जा रहे हैं। कुमार संगकारा इस बार एमसीसी की टीम के कप्तान के रूप में शिरकत कर रहे हैं जहां एमसीसी की टीम अलग-अलग टीमों से 1 वनडे और 3 टी20 मैच खेलेगी।

कुमार संगाकारा

लेकिन इस मैच से ठीक पहले यानि हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान कुमार संगकारा ने उस आतंकी घटना को याद किया। कुमार संगकारा ने कहा कि

ये वो पल जिसे नहीं भुलाया जा सकता कभी

मुझे नहीं लगता है कि मुझे किसी फ्लैशबैक की जरूरत है क्योंकि मुझे वो दिन और वो पल बहुत ही स्पष्ट रूप से याद है। ये ऐसा कुछ नहीं है, जिसमें मैं भरोसा करता हूं या इसमें चार चांद लगाता हूं। लेकिन ये एक ऐसा अनुभव है जिसे आपको कभी नहीं भूलना चाहिए, क्योंकि ये आपको जीवन और खेल के मामले में परिप्रेक्ष्य देता है। और आप अपने स्वयं के मूल्यों और चरित्रों और दूसरों के बारे में बहुत कुछ सीखते हैं।”

पाकिस्तान पहुंचे के बाद भावुक हुए कुमार संगकारा, साल 2009 के आतंकी हमलों को लेकर कहा... 2

“मुझे इसके बारे में बात करने का कोई रिजर्ववेशन नहीं है। ये ऐसा कुछ नहीं है जो मुझे परेशान करता है, लेकिन इस प्रकार के अनुभव केवल आपको मजबूत कर सकते हैं। आज मैं खुद को बहुत ही भाग्यशाली मानता हूं कि मैं यहां लाहौर वापस आ पाया। और साथ ही उन सभी लोगों के बलिदान को याद किया। जिन्होंने उस दिन जान गंवाई थी।”

Related posts