संगकारा फेरवेल: संगकारा ने अपने फेयरवेल पर दिया दिल छु जाने वाला भाषण

SAGAR MHATRE / 24 August 2015

पी सारा ओवल, कोलंबों में भारत के खिलाफ दुसरे टेस्ट के बाद कुमार संगाकारा रिटायर हो गये. भारत की जीत के बाद, कुमार संगाकारा के लिए एक स्पेशल कार्यक्रम रखा गया था, उसमे उन्होंने शानदार भाषण दिया. देखते है उन्होंने क्या कहा:

उन्होंने सबसे पहले सभीका धन्यवाद किया, जो उस समय वहा मौजूद थे. उन्होंने कहा, श्रीलंका के पंतप्रधान, संसद के सदस्य, मेरे फैन्स, मेरे दोस्त, मेरा परिवार, विराट कोहली और भारतीय टीम, एन्जेलो मैथ्यूज और श्रीलंकाई टीम जो यहा मौजूद है, उनका मै धन्यवाद करना चाहता हू.

मेरे स्कुल और कॉलेज से मुझे काफी सपोर्ट मिला, और इसी वजह से आज मै यहा हु. मेरे पिताजी ने मुझे काफी कोचेस के पास ले गये, लेकिन सुनील फर्नांडो उसमे सबसे उपर है. स्कुल में वो हमारे विपक्षी टीम के कोच थे, लेकिन उन्होंने मुझे हर समय सिखाया, और मुझे उनसे ही काफी सिख मिली. जब मै कैंडी में जाता हू, तब मेरे पिताजी अभी भी मुझे मैदान में लेकर जाते है, जहां मैंने अपना बचपन में क्रिकेट खेला.

मै जिन जिन कप्तानों और टीम के साथी खिलाडियों के साथ खेला, उन्हें मिस करुंगा. जो समय हर खिलाडी के साथ बिताया उसे मै कभी नहीं भुल पाऊंगा. मै मेरे मैनेजर को आज धन्यवाद करना चाहता हु, जिन्होंने हर समय मेरा साथ दिया, और एक दोस्त की तरह हमेशा बर्ताव किया.

लोग मुझे कहते है कि, आपको प्रेरणा कहा से मिली है, किसकी वजह से आप यहां है, तो मै कुछ नहीं बोलता क्यूंकि मेरे माता-पिता यहां मौजूद है, तो उनसे बडा मेरे लिए कोई नहीं हो सकता. जो जो मैने किया, उसमे हर जगह उन्होंने मुझे सपोर्ट किया, मैदान के अंदर हु, या मैदान के बाहर, मेरे माता-पिता हमेशा मेरे साथ रहे और इसके अलावा मेरे पास उनके लिए कोई शब्द नहीं है. मै बस उनका शुक्र गुजार हू.

मै कभी भावुक नहीं हुआ, लेकिन आज ये सब देखकर मुझे रोना आ रहा है. मुझे काफी लोगों ने कहा कि, आपकी सबसे बडी उपलब्धि क्या है? तो मै कहुंगा ना विश्वकप, ना शतक, या और कुछ. आज जो दर्शक यहा मुझे देखने मौजूद है, यहीं मेरी सबसे बडी उपलब्धि है. मेरा परिवार, मेरे दोस्त, और जो दर्शक यहा मौजूद है, उन सभी का मै शुक्रिया कहता हू.

भारतीय टीम को मै धन्यवाद कहना चाहुंगा, जिन्होंने इतना अच्छा क्रिकेट खेला, और मै उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं देना चाहता हू. और रहीं बात श्रीलंकाई टीम की, तो जिस तरह मैथ्यूज और साथी खिलाडियों ने मुझे प्यार दिया उसे मै कभी नहीं भुलूंगा. और मै यहीं उम्मीद करता हु कि, सभी खिलाडी आगें अच्छा प्रदर्शन करे, और श्रीलंका का नाम रोशन करे.

Related Topics