KXIP vs MI: पूरा ध्‍यान जोखिम ना उठाने पर लगाया: मुरली विजय

reyansh chaturvedi / 13 May 2016

क्रिकेट डेस्‍क। रिद्धिमान साहा और मुरली विजय के अर्धशतकों तथा गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत किंग्‍स इलेवन पंजाब ने आईपीएल-9 में शुक्रवार को मुंबई इंडियंस को 7 विकेट से मात दे दी। यह पंजाब की 11 मैचों में चौथी जीत है जबकि मुंबई की 12 मैचों में छठीं हार। आइए नजर डालते हैं कि मैच के बाद किसने क्‍या कहा-

पहले 6 ओवर ने मैच आसान बनाया: मुरली
मैच के बाद विजय बोले, ‘विकेट काफी धीमा था, लेकिन पहले 6 ओवर ने हमारे लिए मैच को आसान बना दिया। इस पिच पर 140 रन के स्‍कोर की रक्षा की जा सकती थी। हम कई बार जीत के करीब पहुंचकर चूक गए लेकिन आज की जीत से खुश हैं।’ मुरली ने अपनी बल्‍लेबाजी के बारे में बात करते हुए कहा, मैं गेंद पर अच्‍छे से आक्रमण कर पा रहा था। बल्‍लेबाजी करते समय हमारा पूरा ध्‍यान जोखिम नहीं उठाने का था।’

हमें कुछ और ताकत लगाने की जरूरत: रोहित
टीम की हार से निराश मुंबई इंडियंस के कप्‍तान रोहित शर्मा ने बोले, ‘हमारा प्रयास सही नहीं रहा। विकेट पर बल्‍लेबाजी करना आसान नहीं था क्‍योंकि गेंद रूककर आ रही थी। हमें कुछ और ताकत लगाने की जरूरत थी। 125 रन के लक्ष्‍य की रक्षा करना आसान नहीं था।’

पंजाब की तारीफ करते हुए रोहित ने कहा, ‘किंग्‍स इलेवन पंजाब ने परिस्थितियों का बेहतर तरीके से इस्‍तेमाल किया। हमने कुछ चीजें करने की कोशिश की, लेकिन वह सही साबित नहीं हुई। कई बार ज्‍यादा बातचीत करने से मदद नहीं मिलती। हमें पता है कि यहां क्‍या उम्‍मीद की जाना चाहिए, हमने यहां दो मैच खेले हैं। 140 रन का स्‍कोर रक्षा करने के लिए अच्‍छा होता।’

गति में मिश्रण का मिला फायदा: मार्कस
वहीं किंग्‍स इलेवन पंजाब के तेज गेंदबाज मार्कस स्‍टोइनिस ने अपने टी-20 करियर का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन करते हुए मैन ऑफ द मैच का खिताब अपने नाम किया। खिताब लेने के बाद उनका कहना था कि ‘विकेट मेरी गेंदबाजी के अनुकूल था। इस पिच पर रन बनाना आसान नहीं था। मैंने गेंदबाजी करते समय गति में मिश्रण किया। आप कह सकते हैं कि भाग्‍य हमारा साथ दिया और इस पिच पर लक्ष्‍य का पीछा करने का मौका मिला। यह जीत टीम स्‍प्रिट के कारण हासिल हुई है। सभी गेंदबाजों ने अच्‍छा प्रदर्शन किया। यह हमारे लिए अच्‍छा मैच रहा।’