पंजाब के इस खिलाड़ी ने ही दिलाया हैदराबाद को जीत, जिसके बाद सहवाग दिखायेंगे इसे पंजाब से बाहर का रास्ता | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पंजाब के इस खिलाड़ी ने ही दिलाया हैदराबाद को जीत, जिसके बाद सहवाग दिखायेंगे इसे पंजाब से बाहर का रास्ता 

पंजाब के इस खिलाड़ी ने ही दिलाया हैदराबाद को जीत, जिसके बाद सहवाग दिखायेंगे इसे पंजाब से बाहर का रास्ता

मोहाली (पंजाब), 28 अप्रैल (आईएएनएस)| मौजूदा चैम्पियन सनराइजर्स हैदराबाद ने शुक्रवार को पंजाब क्रिकेट संघ मैदान पर खेले गए आईपीएल-10 के अपने नौवें और कुल 33वें राउंड रोबिन लीग मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब को 26 रनों से हरा दिया। हैदराबाद ने मेजबान टीम के सामने 208 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसका पीछा करते हुए वह 20 ओवरों में नौ विकेट गंवाकर 181 रन ही बना सकी। उसकी ओर से शॉन मार्श ने सबसे अधिक 84 रन बनाए।

मेजबान टीम की शुरूआत अच्छी नहीं रही। हाशिम अमला के स्थान पर पारी शुरूआत करने आए मार्टिन गुपटिल (23) ने तेज शुरूआत की लेकिन वह 26 के कुल योग पर पवेलियन लौट गए। कोलकाता बनाम दिल्ली : महेंद्र सिंह धोनी के एक और बड़े रिकॉर्ड को तोड़ने के बेहद करीब पहुंचे रोबिन उथप्पा

गुपटिल को भुवनेश्वर कुमार ने आउट किया। गुपटिल ने 11 गेंदों पर चार चौके और एक छक्का लगाया। मनन वोहरा (3) सस्ते में आउट हुए जबकि कप्तान ग्लेन मैक्सवेल (0) खाता तक नहीं खोल सके। वोहरा को आशीष नेहरा ने आउट किया जबकि मैक्सवेल का विकेट सिद्धार्थ कौल को मिला।

इसके बाद हालांकि मार्श और इयोन मोर्गन (26) ने चौथे विकेट के लिए 49 गेंदों पर 73 रनों की साझेदारी करते हुए स्थिति को सम्भालने का प्रयास किया लेकिन राशिद खान ने अहम पड़ाव पर मोर्गन को आउट कर अपनी टीम को अहम सफलता दिलाई। मोर्गन ने 21 गेंदों पर दो चौके और एक छक्का लगाया। उनका विकेट 115 के कुल योग पर गिरा।

कौल ने 138 के कुल योग पर रिद्दीमान साहा (2) को चलता कर अपनी टीम को एक और बड़ी सफलता दिलाई। दूसरे छोर पर मार्श हालांकि जुटे हुए थे। मार्श ने 36 गेंदों पर 50 रन पूरे किए और काफी मजबूती से आगे बढ़ते दिखाई दिए।

15 ओवर की समाप्ति तक पंजाब ने पांच विकेट पर 138 रन बनाए थे और उसे अगली 30 गेंदों पर 70 रनो की जरूरत थी। 16वां ओवर लेकर भुवी आए और चौथी गेंद पर मार्श को चलता कर अपनी टीम की जीत तय की। मार्श ने 40 गेंदों पर 14 चौके और दो छक्के लगाए। उनका विकेट 144 के कुल योग पर गिरा। विराट के लिए हाई अलर्ट, इस खिलाड़ी ने दिया अनुष्का शर्मा को लेकर काफी बड़ा बयान

इसके बाद अक्षर पटेल (16) ने एक आखिरी प्रयास किया लेकिन उन्हें आउट कर अपनी तीसरी सफलता हासिल की। अक्षर ने नौ गेंदों पर दो चौके लगाए। मोहित शर्मा (2) का विकेट नेहरा ने 175 के कुल योग पर लिया। अनुरीत सिंह (15) नौवें विकेट के रूप में पवेलियन लौटे। उन्हें नेहरा ने आउट किया।

हैदराबाद की ओर से कौल और नेहरा ने तीन-तीन विकेट लिए जबकि भुवनेश्वर ने दो विकेट लिए। राशिद खान को एक सफलता मिली। राशिद ने चार ओवर में सिर्फ 16 रन खर्च किए।

इस जीत के बावजूद हैदराबाद की टीम आठ टीमों की तालिका में तीसरे क्रम पर ही बनी हुई है। इस स्थान पर हालांकि उसकी स्थिति मजबूत हुई है क्योंकि उसके 11 अंक हो गए हैं और चौथे स्थान पर काबिज पुण के आठ अंक हैं। यह हैदराबाद की नौ मैचों में पांचवीं जीत है जबकि पंजाब की आठ मैचों में पांचवीं हार है।

इससे पहले, टॉस हारने के बाद बल्लेबाजी कर रही हैदराबाद टीम को 207 रन के विशाल योग तक पहुंचाने में कप्तान डेविड वार्नर (51), शिखर धवन (77) और केन विलियमसन (नाबाद 54) का अहम योगदान रहा। हैदराबाद ने 20 ओवरों में सिर्फ तीन विकेट गंवाकर 207 रन बनाए। विडियो : आशीष नेहरा का यह अवतार आपने आज से पहले कभी नहीं देखा होगा

मेहमान टीम की शुरुआत अच्छी रही। धवन और वार्नर ने पहले विकेट के लिए 10 ओवरों में 107 रनों की साझेदारी की।

वार्नर ने 25 और धवन ने 31 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया। वार्नर अर्धशतक पूरा करने के तुरंत बाद पंजाब के कप्तान ग्लेन मैक्सवेल की गेंद पर बोल्ड हुए।

वार्नर ने 27 गेंदों पर चार चौके और इतने ही छक्के लगाए। उनके आउट होने के बाद धवन ने केन के साथ दूसरे विकेट के लिए 40 रन जोड़े।

धवन काफी सहज नजर आ रहे लेकिन 147 के कुल योग पर वह मोहित शर्मा की गेंद पर संयम खो बैठे और मैक्सवेल को कैच थमा बैठे।

धवन ने 48 गेंदों पर नौ चौके और एक छक्का लगाया। धवन की विदाई के बाद केन का साथ देने युवराज सिंह (12) आए। वह हालांकि वह बड़ी नहीं खेल सके और 171 के कुल योग पर मैक्सवेल का दूसरा शिकार बने।

युवराज ने 12 गेंदों पर दो चौके लगाए। इन दोनों के बीच 24 रनों की साझदारी हुई। इसके बाद केन का साथ देने मोएजिज हेनरिक्स आए और सात रनों पर नाबाद लौटे। केन ने 27 गेंदों पर चार चौके और दो छक्के लगाए। मलिंगा या नारायण नहीं बल्कि इस भारतीय गेंदबाज़ को मुथैया मुरलीधरन ने बताया आईपीएल का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज़

पंजाब की ओर से मैक्सवेल ने दो और मोहित ने एक विकेट लिया।

पंजाब की इस हार में सबसे बड़ी भूमिका निभाई टीम के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने इशांत ने अपने 4 ओवर में 41 रन देकर कोई भी विकेट नहीं लिया, पहले 3 ओवर इशांत ने काफी अच्छे डाले, लेकिन चौथे ओवर में उन्होंने 20 रन दे डाले, जिसका दबाव पंजाब के उपर पुरे मैच के दौरान दिखा और परिणाम अंत में ये हुआ कि पंजाब को हार का सामना करना पड़ा.

Related posts