///

World Cup 2019: लता मंगेशकर ने लगाई महेंद्र सिंह धोनी से संन्यास ना लेने की गुहार,कहा देश को आपकी जरूरत है

न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में मिली हार के बाद भारतीय टीम के एकदिवसीय विश्व कप जीतने का सपना मात्र एक सपना बनकर ही रह गया. करोड़ो खेल प्रेमी अभी तक यह बात पचा नहीं पा रहे है, कि टीम इंडिया विश्व कप से बाहर हो गयी है. सेमीफाइनल में मिली हार के बाद हर जगह यह बात चल रही है, कि भारतीय टीम की हार के साथ साथ महेंद्र सिंह धोनी का अंतर्राष्ट्रीय करियर भी खत्म हो गया.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

प्रशंसकों का ऐसा मानना है, कि अब एमएस धोनी जल्द ही अपने संन्यास का औपचारिक ऐलान कर देगे. हालाँकि धोनी की तरह से अभी तक ऐसा कुछ सुनने को नहीं मिला है. सोशल मीडिया पर तो #ThankYouMSD #DhoniForever के ट्वीट भी काफी वायरल हो रहे है.

लता मंगेशकर ने की धोनी से खास गुजारिश 

World Cup 2019: लता मंगेशकर ने लगाई महेंद्र सिंह धोनी से संन्यास ना लेने की गुहार,कहा देश को आपकी जरूरत है 1

मशहुर गायिका लता मंगेशकर ने भारतीय टीम के हार के बाद महेंद्र सिंह धोनी के लिए एक खास ट्वीट किया और संन्यास ना लेने की एक बड़ी गुहार भी लगाई. लता मंगेशकर ने एमएस धोनी के लिए ट्वीट करते हुए लिखा,

”नमस्कार एमएस धोनी जी.. आज मैं सुन रही हूँ, कि आप रिटायर होना चाहते हैं.. कृपया ऐसा मत सोचिये. देश को आपके खेल की जरूरत है और ये मेरी भी आपसे रिक्वेस्ट है कि रिटायरमेंट का विचार भी आप मन में मत लाइए.”

सेमीफाइनल में खेली शानदार पारी

World Cup 2019: लता मंगेशकर ने लगाई महेंद्र सिंह धोनी से संन्यास ना लेने की गुहार,कहा देश को आपकी जरूरत है 2

न्यूजीलैंड के खिलाफ मैनचेस्टर में पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बेहद ही शानदार पारी खेली. धोनी ने नंबर 7 पर बल्लेबाजी करते हुए 72 गेंदों के भीतर 50 रन बनाये. अपनी पारी में एमएस धोनी ने एक चौका और एक छक्का भी लगाया. सेमीफाइनल मैच में जब महेंद्र सिंह धोनी बल्लेबाजी करने के लिए उस समय टीम इंडिया का स्कोर 71/5 था.

एमएस धोनी ने आठवें विकेट के लिए ऑल राउंडर रविन्द्र जडेजा (77) के साथ उम्दा 116 रनों की शतकीय साझेदारी भी निभाई. जडेजा और धोनी की साझेदारी ने भारत को मैच में वापस ला खड़ा किया था, लेकिन 48.3 ओवर में मार्टिन गुप्टिल ने एक धोनी को रन आउट कर पूरे देश को रोने पर मजबूर कर दिया.