श्रीलंका क्रिकेट टीम पर हमला करने वाले आतंकी मारे गए

Gautam / 29 August 2016

लश्कर इ झांगवी(एलइजे) के चार आतंकी जोकि वर्ष 2009 में श्रीलंका क्रिकेट टीम पर हमला करने में शामिल थे, उन्हें पाकिस्तान पुलिस ने रविवार को लाहौर में मुठभेड़ में मार गिराया हैं. पंजाब पुलिस के अपराध जांच विभाग (सीआईडी) के अनुसार लश्कर इ झांगवी के 7 आतंकियों ने सीआईडी टीम पर हमला किया था, मनावन क्षेत्र में स्तिथ सीआईडी का ऑफिस हैं.

यह भी पढ़े: आशीष नेहरा का टी-20 लीग को लेकर विवादास्पद बयान

सीआईडी के प्रवक्ता ने कहा 7 आतंकियों ने पुलिस टीम पर हमला किया, जवाबी कार्यवाही में पुलिस ने मौके पर 4 आतंकियों को मार गिराया जबकि बचे हुए 3 आतंकी अँधेरे का फायदा उठाकर भागने में कामयाब रहे हैं. प्रवक्ता ने यह भी कहा की पुलिस ने बाकी आतंकियों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान चलाया है.

मारे गए आतंकियों की पहचान जुबैर उर्फ नाइक मुहम्मद,अब्दुल वहाब,अदनान अरशद और अतीकुर रहमान के रूप में की गई है. यह सभी आतंकी श्रीलंकाई क्रिकेट टीम और लाहौर के मून मार्केट पर 2009 में हुए हमले में भी शामिल थे. प्रवक्ता ने यह भी कहा कि आतंकियों से हथियार भी बरामद कर लिए गए हैं.

यह भी पढ़े: आखिर बीसीसीआई कैसे बनी दुनिया की सबसे धनी क्रिकेट बोर्ड?

जून में आतंकवाद निरोधक अदालत ने लाहौर में लश्कर इ झांगवी के 6 आतंकवादियों को श्रीलंका क्रिकेट पर हमला करने के केस में प्रतिबन्ध लगाया था. एलइजे के 6 आरोपियों ओबैलुल्लाह, जावेद अनवर, इब्राहीम खलील, मुहम्मद, वहाब और अरशद पर एटीसी चार्ज लगाये थे. ओबैलुल्लाह, अनवर और खलील को जमानत मिल गए थी, जबकि बचे आरोपियों को कोट लखपत जेल में रखा गया हैं.

यह भी पढ़े: बिन्नी के महंगे ओवर पर लोगों ने उड़ाया उनका मज़ाक, पत्नी मयंती कों भी नहीं छोड़ा

एटीसी पहले ही 2 आरोपी मोहसिन रशीद और अब्दुल रहमान को भगोड़ा घोषित कर चुकी हैं. एलइजे प्रमुख मालिक इशाक और इस हमले के मास्टरमाइंड को सीआईडी ने पिछले साल एंकाउन्टर में मार गिराया था. मार्च 2009 में लिबर्टी चौक, कद्दाफी स्टेडियम लाहौर के पास श्रीलंका क्रिकेट टीम को ले जा रही बस पर एलइजे के आतंकियों ने हमला किया था.

यह भी पढ़े: लोकेश राहुल की वजह से खतरे में इन दिग्गज भारतीय खिलाड़ियों का करियर

कप्तान महेला जयवर्धने, कुमार संगाकारा, अजन्ता मेंडिस, थिलन समरवीरा, थरंगा परनाविताना और चमिंडा वास, 7 श्रीलंकन क्रिकेटर इस हमले में घायल हुए थे. जबकि 6 पाकिस्तानी पुलिस ऑफिसर की इस हमले में मौत हुई थी.