कठिन कानून ही हमारे क्रिकेट को बचा सकता है : मिस्बाह उल हक़ | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

कठिन कानून ही हमारे क्रिकेट को बचा सकता है : मिस्बाह उल हक़ 

कठिन कानून ही हमारे क्रिकेट को बचा सकता है : मिस्बाह उल हक़
Pakistan captain Misbah-ul-Haq attends a press conference on the day before the second Test cricket match between England and Pakistan at Old Trafford Cricket Ground in Manchester, England on July 21, 2016. / AFP / OLI SCARFF / RESTRICTED TO EDITORIAL USE. NO ASSOCIATION WITH DIRECT COMPETITOR OF SPONSOR, PARTNER, OR SUPPLIER OF THE ECB (Photo credit should read OLI SCARFF/AFP/Getty Images)

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड एक बार फिर से स्पॉट- फिक्सिंग की वजह से चर्चा में आ गया है. अभी ख़त्म हुई पाकिस्तान सुपर लीग में पाकिस्तान के कई खिलाड़ी स्पॉट फिक्सिंग में पकड़े गए है. मिस्बाह ने खुद दिए संकेत, वेस्टइंडीज दौरे पर बाद लेगे संन्यास

पाकिस्तान की टेस्ट टीम के कप्तान मिस्बाह उल हक़ ने स्पॉट फिक्सिंग करने वाले खिलाड़ियों के बारे में बात करते हुए कहा, “उन सब खिलाड़ियों को क्रिकेट से आजीवन प्रतिबन्ध कर देना चाहिए, जो मैच फिक्सिंग करते है. पाकिस्तान क्रिकेट को बचाने के लिए बोर्ड को कठिन फैसले लेने होंगे.”

मिस्बाह उल हक़ ने आगे कहा, “भ्रष्टाचार को क्रिकेट से दूर करने के लिए, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को युवा खिलाड़ी जो स्कूल और क्लब स्तर पर खेलते है, उन्हें कठिन कानून के बारे में शिक्षित करना चाहिए. उन सबको कानून के बारे में अच्छी तरह से बताना चाहिए, ताकि आगे चलके वह ऐसी गलती ना करने की सोचे, पाकिस्तान क्रिकेट से भ्रष्टाचार को दूर करने के लिए हमें निचले स्तर से ही जाना पड़ेगा.”  मिकी आर्थर ने कहा मिस्बाह-उल-हक है शानदार विदाई के असली हकदार

इसी दौरान मिस्बाह उल हक़ ने अपने करियर पर बात करते हुए कहा, “शायद वेस्ट इंडीज का यह दौरा मेरे करियर का आखिरी दौरा होगा. पाकिस्तान टीम ने कभी वेस्ट इंडीज में जाकर कोई टेस्ट सीरीज नही जीती है और इस बार मैं इसे जीतने के लिए पूरा प्रयास करूँगा, लेकिन यह एक चुनौती होगी.”

मिस्बाह उल हक़ ने आगे कहा, “मेरी पत्नी और मेरा बेटा दोनों क्रिकेट के बहुत बड़े फैन है और जब मैंने उन्हें इस खबर के बारे में बताया, कि शायद यह मेरी आखिरी सीरीज होगी, तो उन्होंने इस बात के लिए मुझसे साफ़ मना कर दिया है. वह चाहते है, कि अभी और ज्यादा समय तक मुझे पाकिस्तान के लिए क्रिकेट खेलते रहना चाहिए.” युवराज सिंह के बाद मिस्बाह उल हक़ ने भी टी-20 में लगाये 6 गेंदों पर 6 छक्के

Related posts