बीसीसीआई के अड़ियल स्वभाव पर लोढ़ा समिति ने लगाई फटकार, कहा जल्द सुधर जाओ वर्ना..... | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

बीसीसीआई के अड़ियल स्वभाव पर लोढ़ा समिति ने लगाई फटकार, कहा जल्द सुधर जाओ वर्ना….. 

बीसीसीआई के अड़ियल स्वभाव पर लोढ़ा समिति ने लगाई फटकार, कहा जल्द सुधर जाओ वर्ना…..

सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित क्रिकेट प्रशासक कमेटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति आर एम लोढ़ा ने सोमवार को मीडिया से हुयी बातचीत में कहा कि,‘ भारतीय क्रिकेट बोर्ड अपने काम को ठीक तरीके से निर्वहन नहीं कर पा रहीं है। यह बात उन्होंनें बीसीसीआई द्वारा सुप्रीम कोर्ट के लोढ़ा कमेटी के दिए गए सुझावे को पालन नहीं किए जाने पर कही।

बीसीसीआई के अड़ियल स्वभाव पर लोढ़ा समिति ने लगाई फटकार, कहा जल्द सुधर जाओ वर्ना..... 1

बीसीसीआई को लगाई फटकार-

बीसीसीआई के अड़ियल स्वभाव पर लोढ़ा समिति ने लगाई फटकार, कहा जल्द सुधर जाओ वर्ना..... 2

लोढ़ा कमेटी ने बीसीसीआई की आलोचना करते हुए कहा कि,‘ बीसीसीआई कोर्ट की अवमानना कर रही है। उन्हें भारत के सर्वोच्च अदालत का सम्मान करना चाहिए। आपको बता दें, सुप्रीम कोर्ट ने भारत के क्रिकेट को सुधार लाने के लिए न्यायमूर्ति आर एम लोढ़ा के तहत एक समिति बनायी थी, जिसका काम खेल को और सुधार के लिए सुझाव देना था। जिसके कारण बीसीसीआई और लोढ़ा समिति के बीत खींचतान जारी है। भारतीय महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को 50 लाख रूपये का इनाम देने वाली बीसीसीआई ने हारने के बाद अब कही ये बात

लोढ़ा कमेटी और बीसीसीआई के बीच जारी है गतिरोध-

बीसीसीआई के अड़ियल स्वभाव पर लोढ़ा समिति ने लगाई फटकार, कहा जल्द सुधर जाओ वर्ना..... 3

आपको बता दें, कुछ विवादित फैसलों पर बीसीसीआई पूरी तरह से लोढ़ा समिति को मानने से इनकार करना चाह रही है। जिसमें एक विवादित फैसला था जिसमें लोढा समिति ने ‘एक राज्य, एक वोट’,‘ एक व्यक्ति, एक पद’,  और ब्रेक की अवधि जैसे विवादित फैसले  को लेकर सुझाव दिए हुए थे। इस तरह के फैसलों पर बीसीसीआई ने यह कहते हुए मानने से इनकार कर रही है। इससे खेल में सुधार होने के बजाय क्रिकेट के राजस्व के अलावा कई चाजों पर क्षति पहुंचेगी।

लोढ़ा समिति ने कहीं मीडिया से यह बात-

बीसीसीआई के अड़ियल स्वभाव पर लोढ़ा समिति ने लगाई फटकार, कहा जल्द सुधर जाओ वर्ना..... 4

हाल ही में एक साक्षात्कार के दौरान मीडिया से बात करते हुए न्यायमुर्ति आर एम लोढ़ा ने यह कहा कि,‘ शायद सुप्रीम कोर्ट बीसीसीआई द्वारा उठाये गये कदम को लेकर देखना चाह रही है। बीसीसीआई ने कमेटी के सुझाव को करीब एक साल से टाल रही है। वर्तमान में, मुझे ऐसा लग रहा है कि बीसीसीआई खेल सुधार को लेकर निभाए जाने वाले अपने दायित्व को लेकर पालन नहीं कर रही है। हांलाकि मुझे भरोसा है कि यह गतिरोध जल्द ही खत्म हो जायेगा।

बीसीसीआई के अड़ियल स्वभाव पर लोढ़ा समिति ने लगाई फटकार, कहा जल्द सुधर जाओ वर्ना..... 5

आपको बता दें, कोर्ट ने चार सदस्यों की समिति में अध्यक्ष को लेकर विनोद राय का नामांकन किया था। इसके अलावा रामचन्द्र गुहा, आईडीएफसी के डायरेक्टर विक्रम लिमाये और पूर्व महिला कप्तान डायना को नियुक्ति किया था। जिसका काम लोढ़ा समिति द्वारा सुझाये गये फैसलों को बीसीसीआई द्वारा लागू करने में सहायता करना था। कुछ जिद्दी लोगों के कारण नहीं लागू हो सकीं लोढ़ा समिति की सिफारिशें : राय

Related posts