इतिहास के पन्नो से: इस खिलाड़ी ने 3 अलग-अलग देशों के लिए किया था कप्तानी | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

इतिहास के पन्नो से: इस खिलाड़ी ने 3 अलग-अलग देशों के लिए किया था कप्तानी 

इतिहास के पन्नो से: इस खिलाड़ी ने 3 अलग-अलग देशों के लिए किया था कप्तानी

तीन अलग-अलग देशो की कप्तानी करने वाले महादेवन सदाशिवम  के बारे में फ्रैंक वौरल ने कहा-“पृथ्वी का सबसे महानतम बल्लेबाज”

वेस्टइंडीज के आलराउंडर गौरी सोबर्स ने कहा-“सदाशिवम को सबसे अच्छे बैट्समैन के रूप में देखा जायेगा”

सदाशिवम 1940 से 1960 तक सीलोन (अब श्रीलंका में) के लिए खेले वह तमिल संघ के एक सदस्य थे,सीलोन क्रिकेट ने एक विवादास्पद फैसले पर सीलोन इलेवन टीम का नेतृत्व करने के लिए सदाशिवम से सम्पर्क किया उन्होंने फैसले को स्वीकार और 1948 में सीलोन टीम का कप्तान बनाया गया 

यह भी पढ़े: भारतीय टीम से बाहर चल रहे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को मिला एक और अहम जिम्मेदारी

कुछ समय बाद वह सीलोन से बाहर चले गये और सिंगापूर क्रिकेट टीम के लिए खेले और सिंगापुर टीम के कप्तान के रूप में टीम का नेतृत्व किया और अपने कैरिएर के अंतिम चरण में मलेशिया टीम का नेतृत्व किया 

उनके उपर अपनी पत्नी की हत्या का भी आरोप लगाया गया लेकिन बाद में उन्हें इस आरोप से बरी कर दिया गया यह घटना सीलोन में ज्यादा प्रसिद्ध हुई 

यह भी पढ़े: OMG: फिर मैदान पर दिखा विराट कोहली का गुस्सा जॉनी बैरेस्टा के साथ मैदान पर की ये शर्मनाक हरकत

सदाशिवम ने 1941  में  परिपूर्णम आनंदम से शादी की और इस जोड़ी की 4 बेटीया हुई,1951में उनकी पत्नी मर गयी और सदाशिवम् पर उनकी हत्या का आरोप लगाया गया बाद में 20 महीने की जाँच पड़ताल के बाद उन्हें बरी कर दिया गया इस घटना से अपनी छबि धूमिल होने से वह सीलोन छोड़ कर चले गये और वोन स्टीवेंसन से शादी कर ली 

उसके बाद सदाशिवम् सिंगापुर चले गये और सिंगापूर टीम का नेतृत्व किया बाद में उन्होंने मलेसिया टीम का भी नेतृत्व किया सदाशिवम के अलावा कोई भी खिलाडी दो से अधिक टीम का नेतृत्व करने में असमर्थ रहा है 

Related posts