धोखाधड़ी के आरोप में आम्रपाली ग्रुप के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 1

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी इस समय तो इंडियन प्रीमियर लीग में व्यस्त हैं आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम की तरफ से खेलने में व्यस्तता के बीच महेन्द्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

महेन्द्र सिंह धोनी आम्रपाली ग्रुप के खिलाफ एक बार फिर से सुप्रीम कोर्ट में

महेन्द्र सिंह धोनी का पिछले काफी समय से भारत की बिल्डिंग कंपनी आम्रपाली ग्रुप के साथ विवाद चल रहा है जिसमें एक और नया मामला सामने आया है जिसमें एमएस धोनी नोएडा में स्थित अपने बंगले पर कब्जा करने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं।

धोखाधड़ी के आरोप में आम्रपाली ग्रुप के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 2

भारतीय टीम के महान क्रिकेटर एमएस धोनी ने उत्तर प्रदेश के नोएडा स्थित एक बंगला खरीदा था। धोनी ने साल 2009 में आम्रपाली ग्रुप से 5800 स्क्वॉयर फिट ये घर 20 लाख रूपये में खरीदा था।

नोएडा में स्थित एक पेंटहाउस को लेकर धोनी पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

नोएडा के सेक्टर 45 में महेन्द्र सिंह धोनी ने 2009 में एक फैमिली लॉंज का एक 5 बीएचके पेंटहाउस खरीदा, उस दौरान इसकी मार्केट वेल्यू 1.25 करोड़ से भी ज्यादा था। लेकिन जब ऑडिटर रवि भाटिया और पवन कुमार अग्रवाल ने पाया कि धोनी 655 खरीददारों में से थे जिन्होंने आम्रपाली से इस तरह की कीमत के फ्लैट मिले तो उन्होंने धोनी से इसके लेन-देन पर स्पष्टीकरण मांगा।

धोखाधड़ी के आरोप में आम्रपाली ग्रुप के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 3

इसके उलट महेन्द्र सिंह धोनी आम्रपाली ग्रुप के द्वारा उन्हें ये पेंटहाउस ना दिए जाने और कंपनी के द्वारा उनका नाम देनदारों की सूची में शामिल करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

महेन्द्र सिंह धोनी का आरोप, ग्रुप ने उन्हें अब तक नहीं दिया पजेशन

वैसे भी आम्रपाली ग्रुप पर पिछले काफी समय से अपने हजारों होम बेयर्स को ठगने का आरोप लगा हुआ है। ऐसे में वो तमाम लोग सुप्रीम कोर्ट जा पहुंचे हैं जिनको आम्रपाली ग्रुप ने घर नहीं दिया है। जिसमें धोनी भी शामिल हैं।

धोखाधड़ी के आरोप में आम्रपाली ग्रुप के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 4

महेन्द्र सिंह धोनी ने अपनी इस याचिका में लिखा है कि उन्होंने आम्रपाली सफारी में एक पेंटहाउस बुक किया था और इस ग्रुप ने उन्हें ग्रुप का ब्रांड एंबेसडर भी नियुक्त किया था।

धोनी ने आगे कहा कि कंपनी ने” उन्हें धोखा दिया है और ब्रांड एंबेसडर के तौर पर जो बकाया राशि थी, उसका भुगतान भी नहीं किया है। आपको बता दें कि आम्रपाली ग्रुप के प्रोजेक्ट में धोनी को अब तक उस पेंट हाउस का पजेशन नहीं दिया गया है।”

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।