इतिहास के पन्नो से: प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानिए क्यों पूरी टीम लेकर पहुंच गये थे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 1

ऐसा कहा जाता है कि महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) और वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) के निजी रिश्ते बेहतर नहीं थे.हालांकि दोनों ही खिलाड़ियों ने इस बात से इनकार किया था. मगर एक बार महेंद्र सिंह धोनी उस वक्त पत्रकारों पर भड़क गए थे जब उन्होंने उनसे वीरेंद्र सहवाग की फिटनेस को लेकर सवाल पूछा. ये वाकिया साल 2009 में इंग्लैंड की मेजबानी में आयोजित हुए टी-20 विश्व कप के दौरान का है.

जब पत्रकारों पर भड़के महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के नेतृत्व वाली टीम इंडिया ने 2007 में टी20 वर्ल्ड कप जीतकर इतिहास रचा था. हालांकि दो साल बाद 2009 के वर्ल्ड कप में भारतीय टीम 2007वाला करिश्मा दोहराने में नाकाम रही. इंग्लैंड में हुए इस वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की नाकामी से ज्यादा महेंद्र सिंह धोनी और ओपनर वीरेंद्र (Virender Sehwag) सहवाग के बीच अनबन की खबरें सुर्खियां थीं.

दोनों के बीच मतभेद की खबरें टूर्नामेंट के शुरुआती दौर में शुरू हो गई थी. दरअसल एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) से वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) की चोट को लेकर सवाल किया गया था, लेकिन लगातार उस विषय पर सवाल पूछे जाने से वह काफी नाराज थे. महेंद्र सिंह धोनी ने कहा था कि जो भी सवाल फिटनेस से जुड़ा है, उसका जवाब आपको बीसीसीआई ( BCCI) से मिलेगा.

बांग्लादेश के खिलाफ मैच से पहले महेंद्र सिंह धोनी ने दी सफाई

महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni)  के इस जवाब ने वीरेंद्र सहवाग और उनके बीच अनबन की अफवाहों को और तेज कर दिया. टीम इंडिया को टूर्नामेंट का आगाज बांग्लादेश के खिलाफ मैच से करना था, लेकिन उससे पहले जो हुआ वो चौंकाने वाला था ट्रेंट ब्रिज में मैच से एक दिन पहले महेंद्र सिंह धोनी पूरी टीम के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में पहुंचे जिससे सब हैरान रह गए.

महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) का ये निर्णय उनके क्रिकेट करियर में लिए गए हैरान करने वाले फैसलों में से एक के तौर पर देखा जाता है. उस प्रेस कॉन्फ्रेंस में धोनी ने कहा, ‘टीम भावना जितनी अच्छी पहले थी, उतनी ही अच्छी है.’

इस दौरान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने कहा कि भारतीय मीडिया में मेरे और सहवाग (Virender Sehwag) के बीच.अनबन की हालिया रिपोर्ट झूठी है और गैर-जिम्मेदार मीडिया रिपोर्टिंग के अलावा और कुछ नहीं है.

सीनियर खिलाड़ियों के करियर को लेकर हमेशा सवालों के घेरे में रहे धोनी

महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) और वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) के बीच कुछ तो गड़बड़ था ऐसी भ्रांतियां आज भी क्रिकेट फैन्स के दिमाग में चलती हैं. कुछ लोगों का ऐसा भी मानना है कि महेंद्र सिंह धोनी की वजह से टीम इंडिया के कुछ सीनियर खिलाड़ियों का क्रिकेट करियर आगे नहीं बढ़ पाया.

महेंद्र सिंह धोनी पर उस वक्त सबसे ज्यादा सवाल उठे थे जब ाल 2011 विश्व कप जीतने वाली टीम के सदस्य रहे वीरेंद्र सहवाग और युवराज सिंह जैसी सीनियर खिलाड़ियों को 2015 विश्व कप टीम में जगह नहीं दी गई थी.