धोनी

भारत में क्रिकेट को एक धर्म की तरह माना जाता है और महेंद्र सिंह धोनी व अन्य भारतीय खिलाड़ियों को भगवान की तरह पूजा जाता है. भारत में क्रिकेट एक ऐसा माध्यम है, जो पुरे भारतवर्ष को एक साथ जोड़ता है. क्रिकेट प्रशंसक भारतीय खिलाड़ियों को बहुत प्यार करते हैं. भारतीय प्रशंसक अपने पसंदीदा खिलाड़ियों से मिलने के लिए किसी भी हद से गुजरने को तैयार रहते हैं.

महेंद्र सिंह धोनी का सुपरफैन लेना चाहता है उनके 183 ऑटोग्राफ

महेंद्र सिंह धोनी का सुपरफैन लेना चाहता है उनके 183 ऑटोग्राफ, नंबर 183 की ये ख़ास वजह 1

आज हम आपकों महेंद्र सिंह धोनी के एक ऐसे सुपरफैन के बारे में बताने जा रहे हैं, जो अब तक धोनी के 150 से ज्यादा ऑटोग्राफ ले चूका है और उसका लक्ष्य 183 ऑटोग्राफ लेने का है. दरअसल, माही के इस फैन का नाम प्रणव है, जो बेंगलुरु के है.

प्रणव इस वजह से महेंद्र सिंह धोनी के 183 ऑटोग्राफ लेना चाहते हैं, क्योंकि माही का वनडे क्रिकेट में बेस्ट स्कोर 183 रन का है, जो उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ साल 2005 में बनाया था.

महेंद्र सिंह धोनी का सुपरफैन लेना चाहता है उनके 183 ऑटोग्राफ, नंबर 183 की ये ख़ास वजह 2

महेंद्र सिंह धोनी से ऑटोग्राफ लेने के लिए प्रणव दुनिया भर के देशों की यात्रा कर चुके है.  वह ग्लव्स, बैट, पोस्टर, स्कैच जैसी चीजों पर धोनी के ऑटोग्राफ लेते है.

धोनी का ऑटोग्राफ लेने कोलकाता पहुंचे प्रणव

महेंद्र सिंह धोनी का सुपरफैन लेना चाहता है उनके 183 ऑटोग्राफ, नंबर 183 की ये ख़ास वजह 3

विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के एक अन्य कप्तान कपिल देव के साथ एक विज्ञापन की शूटिंग के लिए महेंद्र सिंह धोनी कोलकाता पहुंचे थे. माही के पीछे उनके सुपरफैन प्रणव भी कोलकाता पहुंच गए.

कोलकाता के रिसार्ट में महेंद्र सिंह धोनी का शूट पूरा करने का इंतजार कर रहे प्रणव ने कहा, ”माही भाई (महेंद्र सिंह धोनी) ने मुझे 183 ऑटोग्राफ का वादा किया है, लेकिन साथ ही उन्होंने मुझसे एक शर्त भी रखी है. उन्होंने मुझे कहा कि जिस दिन तुम्हारे 183 ऑटोग्राफ पूरे हो जाएंगे, तो इसके बाद तुम्हे ऑटोग्राफ नहीं मिलेंगे. मेरी आज 10 ऑटोग्राफ लेने की योजना है और अगर मुझे ये 10 ऑटोग्राफ मिल जाएंगे, तो मेरे कुल 163 ऑटोग्राफ हो जाएंगे.”

 

vineetarya

cricket is my first and last love, I know cricket only cricket, I love watching cricket because cricket is my passion and my passion is my work my favourite player Mike Hussey and Kl Rahul