महेन्द्र सिंह धोनी के सेना के साथ रहने के अनुरोध पर भारतीय सेना ने लिया ये फैसला 1

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी महेन्द्र सिंह धोनी को रविवार को वेस्टइंडीज के दौरे के लिए चयन की गई टीम में शामिल नहीं किया है। महेन्द्र सिंह धोनी को वेस्टइंडीज के दौरे से बाहर नहीं किया गया है बल्कि उनके खुद के कहने पर आराम देने का फैसला किया गया है।

धोनी के भारतीय आर्मी के साथ रहने का अनुरोध स्वीकार

दरअसल जब भारतीय टीम वेस्टइंडीज के दौरे पर रहेगी उस दौरान महेन्द्र सिंह धोनी इस दौरे से दूर रहकर घर में आराम नहीं करेंगे बल्कि वो इस दौरान भारतीय आर्मी के साथ अपना समय बिताएंगे।

महेन्द्र सिंह धोनी के सेना के साथ रहने के अनुरोध पर भारतीय सेना ने लिया ये फैसला 2

हाल ही में महेन्द्र सिंह धोनी ने भारतीय आर्मी से अनुरोध किया था कि उन्हें अगले दो महीनें तक पैरा चीफ रेजिमेंट की एक क्षेत्रीय सेना बटालियन के प्रशिक्षण में साथ रहने दिया जाए। जिसको भारतीय आर्मी से स्वीकार कर लिया।

अगले दो महीनें तक महेन्द्र सिंह धोनी कश्मीर में रहेगें पैरा मिलिट्री के साथ

साल 2011 के विश्व विजेता बनने के बाद महेन्द्र सिंह धोनी को लेफ्टिनेट कर्नल की मानद उपाधि दी गई थी।  जिसके बाद धोनी कई बार भारतीय आर्मी के साथ वक्त बिता चुके हैं। और इस बार भी उन्होंने ऐसी ही इच्छा जाहिर की। हालांकि वो कश्मीर में सेना के किसी ऑपरेशन का हिस्सा नहीं रहेंगे।

महेन्द्र सिंह धोनी के सेना के साथ रहने के अनुरोध पर भारतीय सेना ने लिया ये फैसला 3

महेन्द्र सिंह धोनी के सेना के साथ रहने के अनुरोध पर भारतीय सेना ने लिया ये फैसला 4

महेन्द्र सिंह धोनी को लेकर हाल के दिनों में काफी चर्चा रही है। धोनी के विश्व कप के बाद से ही संन्यास की अटकलें लगाई जा रही है। साथ ही वेस्टइंडीज के खिलाफ नहीं चुने जाने की भी संभावना थी। हालांकि वेस्टइंडीज में धोनी नहीं जाएंगे लेकिन वो खुद अपनी इच्छा से नहीं जाने का फैसला किया है।

धोनी के रिटायरमेंट के सवाल पर एमएसके प्रसाद ने कही ये बात

एमएस धोनी को लेकर सेलेक्शन कमेटी के चीफ एमएसके प्रसाद ने कहा कि

“वो(धोनी) इस सीरीज के लिए अनुपलब्ध हैं। उन्होंने अपनी अनुपलब्धता व्यक्त की है।  हमारे पास विश्व कप तक कुछ निश्चित रोड़ मैप थे। इसके बाद, हमने कुछ योजनाएं रखी। हमने सोचा था ऋषभ पंत को देखने के लिए मौका दिया जाए। ताकि उन्हें तैयार किया जा सके। अभी यही हमारी योजना है।”

धोनी

“जहां तक रिटायरमेंट का सवाल है रिटायरमेंट एक विशुद्ध रूप से व्यक्तिगत है। एमएस धोनी जैसे दिग्गज क्रिकेटर जानते हैं कि उन्हें संन्यास कब लेना है। लेकिन जहां तर भविष्य के रोड़मैप पर विचार करें तो वो चयनकर्ताओं के हाथ में है।”

 

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।