ये रहे वे तीन कारण,जिसकी वजह से साल 2019 वर्ल्ड कप में टीम इण्डिया के कप्तानी की बागडोर माही को मिल जानी चाहिए | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

ये रहे वे तीन कारण,जिसकी वजह से साल 2019 वर्ल्ड कप में टीम इण्डिया के कप्तानी की बागडोर माही को मिल जानी चाहिए 

ये रहे वे तीन कारण,जिसकी वजह से साल 2019 वर्ल्ड कप में टीम इण्डिया के कप्तानी की बागडोर माही को मिल जानी चाहिए

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी और मौजूदा कप्तान विराट कोहली की तुलना की जाए तो दोनों ही कप्तान अपनी-अपनी जगह एक खास मुकाम हासिल कर चुके हैं। हालांकि अगर एक पल के लिए इन दोनों में सबसे बेहतर कप्तान निभाने वाले खिलाड़ी के रूप में बात किया जाए तो इस मामले में विराट कोहली से कहीं आगें महेन्द्र सिंह धोनी आते हैं। ऐसे में अगर साल 2019 वर्ल्ड कप में टीम इण्डिया की कप्तानी एक बार फिर महेन्द्र सिंह धोनी के पास चली जाए तो यह काफी बेहतर हो जाएगा।

आईये हम आपको वे चुन्निदा कारण बताते हैं,जिसके कारण साल 2019 वर्ल्ड कप के दौरान टीम इण्डिया के कप्तानी की बागडोर विराट कोहली से लेकर एक बार फिर महेन्द्र सिंह धोनी को दे देनी चाहिए।

डीआरएस लेने में माही के पास अचूक क्षमता

ये रहे वे तीन कारण,जिसकी वजह से साल 2019 वर्ल्ड कप में टीम इण्डिया के कप्तानी की बागडोर माही को मिल जानी चाहिए 1

अक्सर ही आपने क्रिकेट के मैदान पर देखा होगा कि जब कप्तान विराट कोहली को डीआरएस लेने संबधित महत्वपूर्ण फैसला लेना होता है तो वे विकेट के पीछे खड़े महेन्द्र सिंह धोनी से सलाह लेते है। इसके अलावा माही के अनुपस्थिती में कोहली को डीआरएस लेने में कई बार दिक्कतो का सामना करना पड़ता है। साथ ही उनका यह फैसला कई बार गलत भी साबित हो जाता है। ऐसे में अगर धोनी और कोहली के बीच डीआरएस लेने की क्षमता सबसे अधिक कप्तान के तौर पर देखा जाए तो इस मामले में कहीं आगे महेन्द्र सिंह धोनी हैं।

दबाव में अक्सर कोहली का आपा खोना

ये रहे वे तीन कारण,जिसकी वजह से साल 2019 वर्ल्ड कप में टीम इण्डिया के कप्तानी की बागडोर माही को मिल जानी चाहिए 2

गौरतलब है कि जब भी कभी टीम इण्डिया दबाव में होती है तो विराट कोहली अक्सर ही अपना आपा खो देते है। इसके अलावा मैच के हारने के बाद भी प्रेस कांफ्रेस के दौरान पत्रकारों के चुटीले सवालों पर कोहली भड़क जाते हैं।वहीं महेन्द्र सिंह धोनी के अगर स्वभाव की बात किया जाए तो अक्सर ही बेहद नम्र और शांत स्वभाव में रहते है,जो की किसी भी कप्तान के लिए सबसे अहम होता है।

माही के पास वर्ल्ड कप में जीत दिलाने का अनुभव

ये रहे वे तीन कारण,जिसकी वजह से साल 2019 वर्ल्ड कप में टीम इण्डिया के कप्तानी की बागडोर माही को मिल जानी चाहिए 3

साल 2011 में जब टीम इण्डिया ने वर्ल्ड कप खेल रही थी,तो उस वक्त टीम की कप्तानी की बागडोर महेन्द्र सिंह धोनी के पास थी और उन्होंने बड़ी शानदार तरीके से अपनी भूमिका निभाते हुए टीम इण्डिया को वर्ल्ड कप की ट्राॅफी दिलायी थी। ऐसे में विराट कोहली इस मामले में अनुभवहीन है,जिसके कारण अगर वर्ल्ड कप 2019 के समय टीम इण्डिया के कप्तानी की बागडोर माही को मिल जाए तो यह काफी बेहतर हो सकता है।

Related posts

Leave a Reply