बायो बबल तोड़ने के आरोपित खिलाड़ियों पर भड़के संजय मांजरेकर, कह डाली ये बड़ी बात 1

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज़ में उपजा तथाकथित बायोबबल उल्लंघन विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. वैसे ये पहली बार नहीं है कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज़ में कोई  विवाद खड़ा हुआ हो. 2008 के सिडनी टेस्ट में हुए मंकीगेट प्रकरण को कौन ही भूला है.

मौजूदा दौरे पर टेस्ट उप-कप्तान रोहित शर्मा समेत 5 भारतीय खिलाड़ियों पर बायोबबल सिक्योरिट प्रोटोकॉल्स को तोड़ने का आरोप है. दरअसल ये पांचों खिलाड़ी  मेलबर्न के एक आउटडोर रेस्टोरेंट में खाना खाने गए थे. इस दौरान इस पूरे मसले में कई पूर्व क्रिकटर्स ने भी अपनी  राय रखी. इसी फ़ेहरिस्त  में अब एक और नाम पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कमेंटेटर संजय मांजरेकर का जुड़ गया है.

5 भारतीय खिलाड़ियों पर बायोबबल उल्लंघन के आरोप

विवाद

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया का आरोप है कि ये पांचों भारतीय खिलाड़ी  मेलबर्न के एक रेस्टोरेंट में खाना खाने गए थे. जो कि कहीं न कहीं क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के निर्देशित प्रोटोकॉल्स के खिलाफ़ था. इसके अलावा इन पांचों खिलाड़ियों को सोशल मीडिया पर भी आलोचना और समर्थन, दोनों ही चीज़ों का सामना करना पड़ा था.

हालांकि बीसीसीआई ने अपने खिलाड़ियों का साथ देते हुए कहा कि ये सब ऑस्ट्रेलियाई मीडिया का खड़ा  किया फ़ालतू का हौवा है. भारतीय खिलाड़ियों ने किसी भी सिक्योरिटी प्रोटोकॉल का कोई उल्लंघन नहीं किया है. लेकिन एहतियातन इन पांचों खिलाड़ियों को इस घटना को आईसोलेशन में रहने के निर्देश दे दिए गए हैं.

या तो खुद बाहर हो जाएं या फिर प्रोटोकॉल्स का पालन करें क्रिकेटर – संजय मांजरेकर

sanjay manjrekar

इसी सिलसिले में क्रिकेटर से कमेंटेटर बने पूर्व भारतीय बल्लेबाज़ संजय मांजरेकर ने भारतीय खिलाड़ियों पर जमकर निशाना साधा है. पूर्व क्रिकेटर ने सोशल मीडिया के जरिए आरोपी खिलाड़ियों को सलाह देते हुए कहा कि या तो इन खिलाड़ियों खुद ही चयन से  नाम वापस ले लेना चाहिए और अगर चयन हो भी जाता है तो इनको बायोबबल प्रोटोकॉल्स का पालन करना  चाहिए.

इसके अलावा मांजरेकर ने कहा कि आप दो नावों पर एक साथ सवारी नहीं  कर सकते. आपको किसी भी देश के क्रिकेट बोर्ड के तय निर्देशों का  पालन करना चाहिए.

पूर्व बल्लेबाज़ ने अपने ट्वीट  में लिखा कि,

“देखिए बड़ी आसाना सी चीज़ है. या तो आप खुद को चयन से दूर कर लें और अगर आप सेलेक्ट हो भी जाते हैं तो आपको बायोबबल और सख्त प्रोटोकॉल्स का पालन करना चाहिए. दोनों तरह से एक साथ चीज़ें नहीं चल सकती.”

7 जनवरी से सिडनी में खेला जाना है तीसरा टेस्ट

बायो बबल तोड़ने के आरोपित खिलाड़ियों पर भड़के संजय मांजरेकर, कह डाली ये बड़ी बात 2

इस पूरे  मसले को लेकर सोशल मीडिया पर अच्छा खासा शोर पहले ही मच चुका है. क्रिकेट फ़ैंस के अलावा कई  पूर्व क्रिकेटर्स और क्रिकेट एक्सपर्ट्स ने भी पूरे मामले पर खुल कर अपनी राय रखी है. गौरतलब है कि पांचों खिलाड़ियों को टीम के बाकी खिलाड़ियों से दूर रखा गया और आईसोलेशन में रहने के भी निर्देश दिए गए.

जबकि प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोपी पांचों क्रिकेटरों को ट्रेनिंग की इजाज़त दे दी गई थी. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और बीसीसीआई ने पहले ही इस पूरे प्रकरण की जाँच के आदेश दे दिए थे. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज़ का तीसरा टेस्ट सिडनी में 7 जनवरी से खेला जाना है. इस लिहाज़ से इस मामले की इंटेंसिटी ज़्यादा अहम हो जाती है.