भारतीय टीम

क्रिकेटरों के बीच आमतौर पर मैदान पर भिड़ंत देखने को मिलती है, लेकिन आज हम भारतीय टीम के दो ऐसे खिलाड़ियो की बात करने वाले हैं जो पहले एक साथ क्रिकेट खेले और अब हाल ही पश्चिम बंगाल में हुए चुनाव में एक दूसरे के खिलाफ लड़ते नज़र आए. दरअसल हम बात करे हैं पूर्व भारतीय बल्लेबाज मनोज तिवारी की जिन्होनें टीएमसी (TMC) से चुनाव लड़ा था और पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज अशोक डिंडा बीजेपी (BJP) की ओर खड़े हुए थे.

गौरतलब है कि, दोनो ही खिलाड़ियो ने इस चुनाव में जीत हासिल की है, जिसके साथ ही उन्हें अपनी-अपनी पार्टियों से विधायक बना दिया गया है. इन दोनो खिलाड़ियो ने इस बात की खुशी को खुद से सोशल मीडिया पर शेयर की है..

मनोज तिवारी टीएमसी (TMC)

क्रिकेट के मैदान से चुनावी जंग तक इन दो भारतीय खिलाड़ियो ने नही छोड़ा है एकदूसरे का साथ 1

भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी मनोज तिवारी ने शिबपुर विधानसभा क्षेत्र से जीत दर्ज करते हुए बीजेपी (BJP) के रतिन चक्रवर्ती को 32 हजार 603 वोट से हराया. जिसके बाद मनोज तिवारी ने कहा कि उन्होंने पिछले साल कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों की दशा देखकर क्रिकेट की बजाय राजनीति में जाने का मन बनाया.

इसके अलावा मनोज तिवारी ने 12 वनडे और 3 टी20 मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया हैं.

अशोक डिंडा बीजेपी(BJP)

क्रिकेट के मैदान से चुनावी जंग तक इन दो भारतीय खिलाड़ियो ने नही छोड़ा है एकदूसरे का साथ 2

वहीं दूसरी ओर भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी  अशोक डिंडा  ने मोयना विधानसभा क्षेत्र से जीत दर्ज करते हुए टीएमसी (TMC) के संग्राम कुमार दोलाई को 1260 से अधिक वोट से हराया. संग्राम कुमार ने पिछले विधान सभा चुनाव में यही सीट 12 हजार से अधिक वोटों से जीती थी.

वहीं अशोक डिंडा ने भारत की ओर से 13 वनडे और 9 टी20 मैच खेले हैं.

Sourabh Arora

For decades, cricket has been considered the gentleman’s game. Fine pitch, critical bouncers, twist and turns, sweeps and lofts and running shoes all around. A game of elite class as well as exciting...