विडियो: एक भी आईपीएल मैच ना खेलने वाले इस खिलाड़ी के फैन्स को देखकर सहवाग ने बताया ''बाहुबली''

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

विडियो: एक भी आईपीएल मैच ना खेलने वाले इस खिलाड़ी की फैन्स फॉलोइंग को देख सहवाग भी रह गये हैरान, KXIP के इस खिलाड़ी को दिया ‘बाहुबली’ का नाम 

विडियो: एक भी आईपीएल मैच ना खेलने वाले इस खिलाड़ी की फैन्स फॉलोइंग को देख सहवाग भी रह गये हैरान, KXIP के इस खिलाड़ी को दिया ‘बाहुबली’ का नाम

बड़े-बड़े खिलाड़ियों की आपने फैन फॉलोइंग देखी होगी. लेकिन क्या आपने ऐसे किसी खिलाड़ी के फैन्स देखे हैं जिसने ना तो कोई अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच खेला है ना ही आईपीएल में कोई मैच खेला है. ऐसा ही एक खिलाड़ी है जिसको खेलते हुए लोगों ने टीवी पर तो नहीं देखा लेकिन उसकी बैटिंग के कायल हैं.

वह खिलाड़ी हैं कश्मीर के मंज़ूर पांडव जो एक शानदार बल्लेबाज हैं. जिन्हें आईपीएल ऑक्शन के दौरान किंग्स इलेवेन पंजाब ने मंज़ूर के बेस प्राइस पर लेकर अपनी टीम में शामिल किया था. सहवाग ने एक विडियो ट्वीटर पर शेयर करते हुए मंज़ूर को बाहुबली बताया है.

विडियो: एक भी आईपीएल मैच ना खेलने वाले इस खिलाड़ी की फैन्स फॉलोइंग को देख सहवाग भी रह गये हैरान, KXIP के इस खिलाड़ी को दिया 'बाहुबली' का नाम 1

सहवाग ने ट्वीट करते हुए लिखा है ”मंज़ूर पांडव उर्फ़ बाहुबली जो कश्मीर से हैं. यह किंग्स इलेवेन की प्रैक्टिस के दौरान. खेलने से पहले ही इस तरह की फैन फॉलोइंग बहुत कम देखने को मिलती है. वह एक सच्चे प्रेरणादायक हैं. यह अनुभव उनके लिए शानदार होगा. और लोगों को प्रेरित करेगा”

मंज़ूर आईपीएल में खेलने वाले कश्मीर के दूसरे खिलाड़ी बने हैं. इससे पहले जम्मू-कश्मीर के परवेज रसूल आईपीएल में खेल चुके हैं. मंज़ूर के लिए आईपीएल तक का सफ़र इतना आसान नहीं रहा है. मंज़ूर ने जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा के एक गाँव से क्रिकेट खेलना शुरु किया था. उनके परिवार में आठ भाई-बहन हैं जिसमें वह सबसे बड़े हैं. ऐसे में उन पर घर की भी जिम्मेदारी थी. मंज़ूर को गार्ड तक की नौकरी करनी पड़ी लेकिन क्रिकेट के जुनून ने उन्हें मैदान से अलग नहीं होने दिया.

विडियो: एक भी आईपीएल मैच ना खेलने वाले इस खिलाड़ी की फैन्स फॉलोइंग को देख सहवाग भी रह गये हैरान, KXIP के इस खिलाड़ी को दिया 'बाहुबली' का नाम 2

मंज़ूर ने खुद बताया है कि वह रात में गार्ड की नौकरी किया करते थे. जिससे दिन में क्रिकेट भी खेल पाएं. क्लब और मुस्ताक अली टी-20 ट्रॉफी में उन्होंने जबरदस्त प्रदर्शन किया जिसके बाद उन्हें थोड़ी बहुत पहचान मिली. मंज़ूर जब क्लब के लिए खेलते थे तो उनके पास अपने जूते तक नहीं होते थे. लेकिन उनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें पंजाब ने अपनी टीम में शामिल किया है.

Related posts

Leave a Reply