स्टीव स्मिथ

आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर इस बात को लेकर आश्चर्यचकित दिखाई दे रहे हैं, कोरोना वायरस महामारी के बाद भी काफी संख्या में उनके देश के खिलाड़ी आईपीएल के लिए भारत में रुके हुए हैं. खासकर आईपीएल द्वारा छोटी रकम पाने वाले स्टीवन स्मिथ.

गौरतलब है कि आस्ट्रेलिया के 3 खिलाड़ी भारत में कोविड के बढ़ते मामलों को देखकर स्वदेश लौट गए हैं. लेकिन उनके 14 खिलाड़ियों के अलावा कुछ कोच और कमेंटेटर आईपीएल का अभी तक हिस्सा बने हुए हैं.

मार्क टेलर बोले स्मिथ का आईपीएल में रुकना आश्चर्यचकितः

टेलर ने चैनल 9 पर एक चर्चा के दौरान कहा कि मैं थोड़ा सा आश्चर्यचकित हूं कि वहां अब भी कई आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी रुके हुए हैं. अगर आप पैट कमिंस हैं तो 6 सप्ताह के लिए आपके लिए क्रिकेट छोड़ना मुश्किल है.

स्टीव स्मिथ

उन्होंने कहा कि स्टीवन स्मिथ का मामला दिलचस्प है, क्योंकि उनका अनुबंध लगभग 350,000 आस्ट्रेलियाई डालर यानि दिल्ली कैपिटल्स के 2.2 करोड़ रुपये का है.

स्मिथ जैसे खिलाड़ी के लिए ये उतना बड़ा अनुबंध नहीं है, जितना कि शायद होना चाहिए था, मैं हैरान था कि उन्होंने वहां जाने का फैसला किया. टेलर ने इस दौरान मुंबई इंडियंस के साथ जुड़े एक अन्य खिलाड़ी क्रिस लिन के सुझाव को बेतुका करार दिया.

कई खिलाड़ी आईपीएल को बीच में छोड़कर कर चुके हैं स्वदेश वापसीः

लिन ने हाल ही में कहा था कि क्रिकेट आस्ट्रेलिया को टूर्नामेंट के अंत में खिलाड़ियों को वापस लाने के लिए एक चार्टर्ड प्लेन की व्यवस्था करनी चाहिए. लिन ने कहा था कि चूंकि क्रिकेट आस्ट्रेलिया अपने खिलाडियों की आईपीएल कमाई का कुछ प्रतिशत हिस्सा लेता है इसलिए उन्हें इस दिशा में खिलाड़ियों के लिए सोचना होगा.

"सिर्फ 2.2 करोड़ रूपये के लिए स्टीव स्मिथ का आईपीएल खेलने भारत जाना समझ से परे" 1

टेलर ने इस तरह की टिप्पणी को बेतुका करार दिया. टेलर ने कहा कि मुझे लगता है कि लिन की प्रतिक्रिया बेतुका है. क्रिकेट आस्ट्रेलिया खिलाड़ियों के अनुबंध का 10 प्रतिशत लेता है, ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि उसने कोच और अन्य माध्यमों में खिलाड़ियों को उस लायक बनाया है.

बता दें कि एंड्रयू टाई, एडम जंपा और केन रिचर्डसन कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण स्वदेश लौट गए, लेकिन आस्ट्रेलिया के कई खिलाड़ी और कोच इस समय सहज महसूस कर रहे हैं.