आंतकी मसूद अजहर को एमएस धोनी की तरह फंसाया, राजनीयिक ने कही ये बात

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

महेंद्र सिंह धोनी की मदद से फंसाया गया दहशतगर्द आतंकी मसूद अजहर, राजनायक सैयद अकबरूद्दीन ने बताया धोनी की भूमिका 

महेंद्र सिंह धोनी की मदद से फंसाया गया दहशतगर्द आतंकी मसूद अजहर, राजनायक सैयद अकबरूद्दीन ने बताया धोनी की भूमिका

सफलता पाने के लिए सबसे बड़ा मंत्र होता है कड़ी मेहनत और निरंतर मेहनत…. मन में किसी काम के पूरा ना होने तक कभी हार ना मानना ही सफलता हासिल करने का सबसे बड़ा मंत्र होता है। ऐसा ही कुछ दुनिया को आंतकवादी मसूद अजहर मामले में हासिल हुआ, आख़िरकार ये दहशत गर्द अब फंस चूका है।

मसूद अजहर को वैश्विक आंतकवादी किया घोषित

विश्व के लोगों को कई आंतकवादी हमलों से चोट पहुंचाने वाले मशहूर आतंकी मसूद अजहर को आखिरकार सर्वसंमति के साथ बुधवार को वैश्विक आतंकवादी घोषित कर दिया गया है।

महेंद्र सिंह धोनी की मदद से फंसाया गया दहशतगर्द आतंकी मसूद अजहर, राजनायक सैयद अकबरूद्दीन ने बताया धोनी की भूमिका 1

आंतकवादी मसूद अजहर को ग्लोबल टेरिरिस्ट घोषित करने में विश्व भर के बड़े देश के साथ ही हर किसी का प्रयास रंग लाया और अमेरिका, फ्रांस, रूस और भारत जैसे बड़े देशों के साथ ही चीन के सहयोग से मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र ने वैश्विक स्तर का आंतकवादी करार दिया है। इसे एक तरह से भारत की राजनीतिक कूटनीति की जीत मानी जा रही है।

भारत के राजनायिक सैयद अकबरूद्दीन ने इसे एमएस धोनी की विचारधारा से जोड़ा

मसूद अजहर को ग्लोबल टेरिरिस्ट घोषित करने के बाद भारत में खुशी की लहर है तो वहीं भारत सरकार ने भी इसके लिए बहुत बड़ा प्रयास दिया। अब भारत सरकार के संयुक्त राष्ट्र में स्थायी प्रतिनिधि के तौर पर काम कर रहे सैयद अकबरूद्दीन ने इस कदम को क्रिकेट के साथ जोड़ा है।

महेंद्र सिंह धोनी की मदद से फंसाया गया दहशतगर्द आतंकी मसूद अजहर, राजनायक सैयद अकबरूद्दीन ने बताया धोनी की भूमिका 2

मसूद अजहर को विश्व स्तर का आतंकवादी घोषित करने को लेकर सैयद अकबरूद्दीन ने साफ तौर पर इस प्रयास को भारत के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी के साथ जोड़ा है और उन्हीं की तरह कभी हार ना मानने वाली नीति को माना है।

धोनी से मिलती है किसी काम को लेकर कभी कोशिश नहीं छोड़ने की सीख

सैयद अकबरूद्दीन ने महेन्द्र सिंह धोनी से प्रेरित होने वाली इस बात को लेकर कहा कि

“मैं एमएस धोनी के दृष्टिकोण में विश्वास करता हूं। ये सोचकर कि किसी भी लक्ष्य को पूरा करने की कोशिश करते समय आप जितना सोचते हैं उससे ज्यादा तो आपके पास समय होता है। कभी भी मत कहो कि समय खत्म हो गया है, कभी भी कोशिश को जल्दी मत छोड़ो।”

महेंद्र सिंह धोनी की मदद से फंसाया गया दहशतगर्द आतंकी मसूद अजहर, राजनायक सैयद अकबरूद्दीन ने बताया धोनी की भूमिका 3

यानि इस बात से तो साफ है कि सैयद अकबरूद्दीन महेन्द्र सिंह धोनी के विचारधारा से इस बात को जोड़ रहे हैं। क्योंकि धोनी 37 साल की उम्र में भी विश्व कप खेलने के लिए तैयार है लेकिन समय उन्हें सन्यास लेने की सलाह दी जाती थी।

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।

Related posts