मैथ्यू हेडन ने किया बड़ा खुलासा, चोट के कारण बनाया था 380 रनों का विश्व रिकॉर्ड 1

ये वो वक्त था जब ऑस्ट्रेलिया का विश्व क्रिकेट में दबदबा पूरी तरह कायम था. ऑस्ट्रेलिया के ओपनर मैथ्यू हेडन ने उस वक्त दुनिया की सबसे बड़ी टेस्ट पारी खेली थी. 10 अक्टूबर 2003 को पर्थ के मैदान पर जिम्बाब्वे के खिलाफ हेडन ने 380 रन ठोक दिए थे. आज उसी रिकॉर्ड पारी को याद करते हुए मैथ्यू हेडन ने बड़ा खुलासा किया है. मैथ्यू हेडन ने बताया कि कैसे उन्होंने वो पारी चोटिल होने के वजह से ही खेली थी.

फिजियो से हुई थी तीखी बहस

मैथ्यू हेडन ने किया बड़ा खुलासा, चोट के कारण बनाया था 380 रनों का विश्व रिकॉर्ड 2

ऑस्ट्रेलिया के इस पूर्व दिग्गज बल्लेबाज ने अपनी उसी पारी को याद करते हुए बताया कैसे चोट के कारण उस समय 380 रनों की टेस्ट क्रिकेट इतिहास की सबसे बड़ी पारी खेली थी. उन्होंने इस मैच में ब्रायन लारा के 375 रनों के रिकॉर्ड को तोड़ा था. द ग्रेड क्रिकेटर पॉडकास्ट से बात करते हुए मैथ्यू हेडन ने कहा,

“शायद मैं बहुत भाग्यशाली था कि मैं उस मैच में खेल रहा था. मैच से पहले मेरे पीठ में बहुत दर्द हो रहा था. उस समय फिजियो, एरोल वालकॉट ने मुझसे कहा कि ‘मेट, तुम खेल नहीं सकते’. और मैंने कहा , मुझे ऐसा नहीं लगता है एरोल – मेरा काम आपको यह बताना है कि मैं खेल सकता हूं और आपका काम मुझे मैदान में रखना है और ये ऐसे शब्द अज्ञात नहीं थे.”

चोट के कारण बनाया था 380 रनों का विश्व रिकॉर्ड

मैथ्यू हेडन ने किया बड़ा खुलासा, चोट के कारण बनाया था 380 रनों का विश्व रिकॉर्ड 3

हेडन, जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट इतहास में दूसरा सबसे अधिक रन बनाया है. हेडन हमेशा अपनी आक्रामक शैली के लिए जाने जाते रहे हैं. उस मैच की चर्चा करते हुए हेडन ने आगे बताया कि कैसे चोट ने उन्हें आक्रामक क्रिकेट खेलने के विकल्प चुनने के लिए मजबूर किया क्योंकि वो ज्यादा दौड़ नहीं सकते थे. इस मैच में उन्होंने सिर्फ 437 गेंदों पर 380 रन ठोंक दिए थे. हेडन ने आगे कहा,

“यह वास्तव में मेरी बाध्यता थी कि मुझे जिस तरह से टेस्ट में बल्लेबाजी करनी थी वह मैंने किया क्योंकि मैं वास्तव में आगे नहीं झुक सकता था. इसी कारण दौड़ने के बजाय मैंने सोचा कि सबसे अच्छा रास्ता निश्चित रूप से हवाई शॉट के जरिये रन बनाना है. इस मैच में मेरे बल्ले पर गेंद बहुत अच्छे से आ रही थी. मैं गेंद की लाइन से हटकर खेल रहा था जो शायद खेलने के तरीके के बजाय हिटिंग तकनीक बन गया था और यह मेरे लिए काम कर गया.”

 मैथ्यू हेडन ने खेली थी टेस्ट की सबसे बड़ी पारी

मैथ्यू हेडन ने किया बड़ा खुलासा, चोट के कारण बनाया था 380 रनों का विश्व रिकॉर्ड 4

इस मैच में हेडन ने 380 रन बनाकर ब्रायन लारा का सर्वाधिक टेस्ट स्कोर का रिकॉर्ड तोड़ा था. लारा ने इंग्लैंड के खिलाफ 1994 में 375 रन बनाए थे. ये पारी खेलने के बाद हेडन को जिस एक प्लेयर का कॉल आया वो और कोई नहीं ब्रायन लारा ही थे. लारा ने इसके छह महीने के भीतर ही यानी 10 अप्रैल 2004 को शुरू टेस्ट में इंग्लैंड के ही खिलाफ नाबाद 400 रनों की पारी खेली थी. ये आजतक टेस्ट क्रिकेट का सबसे बड़ा स्कोर है. मैच के बाद दिए एक इंटरव्यू में हेडन ने कहा था,

“ये पारी मेरे करियर की बेस्ट पारी है क्योंकि इन 11 घंटों में मैंने हर स्ट्रोक प्ले सहजता से खेला है”