/

माइकल होल्डिंग ने कहा अगर भारत को अभी भी जीतनी है सीरीज तो हार्दिक पंड्या को करना होगा टीम से बाहर

भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के पहले दो मुकाबले हो चुके हैं, जिसमें भारत को दोनों बार इंग्लैंड से हार का सामना करना पड़ा, जिसके बाद भारतीय टीम की हर जगह आलोचना होती हुई नजर आ रही है. इस हार के मौके पर भारतीय टीम की कमियां हर किसी व्यक्ति को नजर आ रही हैं.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

माइकल होल्डिंग ने कहा अगर भारत को अभी भी जीतनी है सीरीज तो हार्दिक पंड्या को करना होगा टीम से बाहर 1

भारत की इस हार पर वेस्टइंडीज के पूर्व खिलाड़ी माइकल होल्डिंग ने कहा कि “पंड्या को हर कोई आने वाले समय का कपिल देव बता रहा है. लेकिन पंड्या ने अभी तक इंग्लैंड के खिलाफ ऐसा प्रदर्शन नहीं किया है, कि उनको कपिल देव की जगह दी जाए.”

हार्दिक नहीं ले सकता पुजारा की जगह

माइकल होल्डिंग ने कहा अगर भारत को अभी भी जीतनी है सीरीज तो हार्दिक पंड्या को करना होगा टीम से बाहर 2

होल्डिंग का कहना है कि “मै मनाता हूँ, कि हार्दिक ने दूसरी पारी में कुछ रन बनाए, लेकिन इसका मतलब क्या वो पुजारा से अच्छे खिलाड़ी हैं. मुझे ये भी नहीं लगता की पंड्या को बतौर गेंदबाज टीम में शामिल किया जाना.”

अभी तक पंड्या ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले मैच में कोई खास प्रदर्शन नहीं किया. पहले मैच की दूसरी पारी में पंड्या से कोई गेंद तक नहीं कराई गई. इस बात के बाद होल्डिंग ने पहले मैच में पुजारा को जगह न देने पर नाराजगी जताई.

होल्डिंग ने कहा टीम में पंड्या की जगह नहीं

माइकल होल्डिंग ने कहा अगर भारत को अभी भी जीतनी है सीरीज तो हार्दिक पंड्या को करना होगा टीम से बाहर 3

होल्डिंग ने कहा, “सबसे पहले मैं कहना चाहूंगा कि मैनेजमेंट को चेतेश्वर पुजारा को भारतीय टीम में जगह देनी चाहिए. मुझे नहीं पता कि उन्होंने पुजारा को बाहर क्यों किया. पुजारा ने टेस्ट सीरीज से पहले काउंटी क्रिकेट खेली थी और इस दौरान वो 14.33 की खराब औसत से महज 172 रन ही बना सके थे.”

होल्डिंग ने आगे कहा, “पंड्या के दो मैचों का स्कोर देखें तो कुल मिलाकर चार परियों में 90 रन बनाए है. वहीं वो 37.33 की औसत से मात्र 3 विकेट लेने में सफल हो पाए हैं.”

इंग्लैंड के ऑलराउंडरो ने दिखाया दम

माइकल होल्डिंग ने कहा अगर भारत को अभी भी जीतनी है सीरीज तो हार्दिक पंड्या को करना होगा टीम से बाहर 4

इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स बल्ले से असफल रहे, लेकिन टेस्ट के चौथे दिन उनका जादू निर्णायक साबित हुआ.  दूसरे टेस्ट में  क्रिस वोक्स ने भी लॉर्ड्स के मैदान पर शानदार गेंदबाजी की और फिर अपने कैरियर का पहला टेस्ट शतक लगाया.

युवा ऑलराउंडर सैम कुरन ने पहले टेस्ट की पहली पारी में शानदार गेंबाजी की, वही दूसरी पारी में शानदार अर्धशतकीय पारी खेली थी. और अपनी टीम को मुश्किल घड़ी से उबारा था.