इंग्लैंड के दिग्गज खिलाड़ी ने दिया बड़ा बयान, कहा तीनो फ़ॉर्मेट में बुरी तरह से हारेगी भारतीय टीम 1

भारतीय क्रिकेट टीम ने लंबे समय के बाद आखिरकार इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी कर ली है। विराट कोहली एंड कंपनी ने कोरोना काल के बीच में करीब 8-9 महीनों के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में उतरी जब शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मैच खेला गया। जहां भारतीय टीम को हार के साथ शुरुआत करनी पड़ी।

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारत की हार के साथ शुरुआत

ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर भारतीय टीम एक फुल सीरीज खेलने के लिए पहुंची है। इस दौरे पर भारत को तीन मैचों की वनडे सीरीज के खत्म होने के बाद तीन मैचों की टी20 सीरीज और 4 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है।

इंग्लैंड के दिग्गज खिलाड़ी ने दिया बड़ा बयान, कहा तीनो फ़ॉर्मेट में बुरी तरह से हारेगी भारतीय टीम 2

इसकी शुरुआत शुक्रवार को तीन मैचों की वनडे सीरीज के साथ हुई। इस मैच में भारत को ऑस्ट्रेलिया ने काफी आसानी के साथ 66 रनों से हरा दिया और सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। सिडनी में खेले गए इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए 374 रनों का काफी बड़ा स्कोर खड़ा किया था।

माइकल वॉन ने कहा, भारत पूरे दौरे पर हारेगा बुरी तरह

भारतीय टीम के लिए वैसे ही इस ऑस्ट्रेलियाई दौरे को चुनौतीपूर्ण माना जा रहा है। और पहले मैच में मिली इस तरह की हार ने आलोचकों को बोलने के लिए मौका दे दिया। जिसमें एक दिग्गज खिलाड़ी ने इस हार के बाद भविष्यवाणी की है कि भारत को इस पूरे दौरे पर बुरी हार का सामना करना पड़ेगा।

इंग्लैंड के दिग्गज खिलाड़ी ने दिया बड़ा बयान, कहा तीनो फ़ॉर्मेट में बुरी तरह से हारेगी भारतीय टीम 3

भारतीय टीम की हार पर इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी रहे माइकल वॉन ने भविष्यवाणी की है। माइकल वॉन ने दो टूक अंदाज में ये बात रखी कि ट्वीट करते हुए लिखा कि” मुझे लगता है कि ऑस्ट्रेलिया इस दौरे पर भारत को सभी फॉर्मेट में बुरी तरह हरायेगा।”

पुरानी रणनीति पर चल रही है टीम इंडिया की रणनीति

इसके अलावा माइकल वॉन ने भारतीय टीम की रणनीति पर भी सवाल खड़े किए। तो साथ ही भारतीय टीम की धीमी ओवर रेट को लेकर भी बड़ी बात कही। उन्होंने लिखा “भारतीय वनडे टीम मुझे पुरानी रणनीति वाली लगती है। सिर्फ पांच गेंदबाजी विकल्प और बल्लेबाजी भी इतनी गहरी नहीं। ” 

माइकल वॉन ने लिखा “भारत का ओवर रेट काफी खराब। हाव भाव रक्षात्मक। फील्डिंग भी चौंकाने वाली। गेंदबाजी सामान्य। वहीं दूसरी ओर ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी शानदार रहे।”