माइक हेसन

इंडियन प्रीमियर लीग में कुछ टीमें ऐसी रही हैं जिनके पास शुरुआत से ही नामचीन खिलाड़ी खेले हैं। ऐसे खिलाड़ी जिनका क्रिकेट जगत में खास नाम रहा है लेकिन इन खिलाड़ियों से भरी होने के बाद भी उस टीम को अब तक खिताब से वंचित रहना पड़ा है। इन टीमों की बात करते हैं तो सबसे पहले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम का नाम निकलता है।

आरसीबी की टीम हर सीजन में कुछ कमी से कर जाती के चूक

क्योंकि इस टीम में विराट कोहली और एबी डीविलियर्स जैसे सितारें खेलते आ रहे हैं। आरसीबी की टीम सितारों से भरी होने के बाद भी अब तक खिताब को चुमने से चूक रही है।

विराट कोहली

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम इस बार लगता है कि किसी तरह से खिताब को जीतने की उम्मीद लगा के बैठी है और इसके लिए उन्होंने अपनी सबसे बड़ी कमजोरी कही जाने वाली डेथ ओवर्स की गेंदबाजी की कमी को भरने की कोशिश की है।

आरसीबी ने अपनी कई कमियों को किया है दूर- माइक हेसन

ऑक्शन में इस बार आरसीबी ने अपनी गेंदबाजी में कुछ ऐसे नाम शामिल किए हैं जो उन्हें गेंदबाजी में मजबूती देने का माद्दा रखते हैं तभी तो आरसीबी के संचालक निदेशक माइक हेसन का मानना है कि इस बार उनकी टीम ने कुछ कमी को दूर कर लिया है।

आरसीबी के डायरेक्टर माइक हेसन ने कहा हमारी टीम की सभी कमियां हो चुकी हैं खत्म 1

माइक हेसन ने इसको लेकर कहा कि

खिलाड़ियों ने पिछले कुछ महीनें कई तरह के माहौल में बिताए और फिटनेस और ट्रेनिंग के अलग-अलग स्तर पर हैं। इसलिए सभी के लिए एक तरह की ट्रेनिंग सत्र के लिए तैयारी करने का सही तरीका नहीं रहेगा। हमारे सहयोगी स्टाफ की टीम ऐसे तरीके से काम करती रहेगी जिसमें लचीलापन होगा और प्रत्येक खिलाड़ी की मदद कर पाएगा।”

डेथ ओवर्स की रही है सबसे बड़ी कमजोरी, इस बार होगी दूर

हेसन ने आगे कहा कि

“खिलाड़ियों को मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक रूप से निखारने के लिए हमारे पास बेहद कुशल सहयोगी स्टाफ है जिससे कि तैयारी में प्रत्येक खिलाड़ी की मदद हो सके। और अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलने के लिए तैयार रहे।”

माइक हेसन

आरसीबी के लिए डेथ ओवर्स सबसे बड़ी चिंता बनी हुई है। पिछले तीन सीजन से तो डेथ ओवर्स ने आरसीबी को काफी दिक्कत में डाला हुआ है। तभी तो हाल ही में युजवेन्द्र चहल ने भी माना था कि उनकी टीम ने पिछले तीन सीजन में अपने 30 प्रतिशत मैच तो डेथ ओवर की गेंदबाजी से गंवाएं है। इसी की भरपायी करते हुए इस बार कुछ अच्छे गेंदबाज शामिल किए गए हैं। हेसन ने कहा कि

“हम अपनी डेथ बॉलिंग के बारे में काफी स्पष्ट थे और सुनिश्चित करना चाहते थे कि इससे निपटा जाए। हम नीलामी में इसका हल निकालने गए थे। हमारे पास उडाना, मौरिस, रिचर्डसन, स्टेन हैं, नवदीप सैनी ने अच्छा काम किया है और हमारे पास स्पिनरों का शानदार मिश्रण है। हमें लगता है कि हम अपनी बल्लेबाजी पर भी ज्यादा निर्भर नहीं हैं। और हमारे पास संतुलित टीम है।”

कैटिच ने कहा, टीम में अच्छे खिलाड़ी की लिस्ट

इसके अलावा टीम के सपोर्टिंग स्टाफ के सदस्य साइमन कैटिच ने कहा कि

“हम ऐसे खिलाड़ियो की तलाश में थे जो इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने खेल के शिखर पर हों। फिंच इस सूची में सबसे ऊपर थे। बतौर खिलाड़ी और कप्तान, उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। वो स्पिन को अच्छी तरह से खेलते हैं और उनमें नेतृत्व क्षमता भी फायदेमंद होगी।”

आरसीबी के डायरेक्टर माइक हेसन ने कहा हमारी टीम की सभी कमियां हो चुकी हैं खत्म 2