अपने पहले प्यार पर खुलकर बोली मिताली राज, बताया किसकी वजह से न चाहते हुए भी बनना पड़ा क्रिकेटर | Sportzwiki

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

अपने पहले प्यार पर खुलकर बोली मिताली राज, बताया किसकी वजह से न चाहते हुए भी बनना पड़ा क्रिकेटर 

अपने पहले प्यार पर खुलकर बोली मिताली राज, बताया किसकी वजह से न चाहते हुए भी बनना पड़ा क्रिकेटर
photo credit : Getty images

हाल में भारतीय महिला टीम की स्टार और टीम की कप्तान मिताली राज ने ब्रेकफास्ट विथ चैंपियंस में हिस्सा लिया था. इस दौरान उन्होंने अपने करियर को लेकर बात की. वही इस दौरान उन्होंने बताया कि वो क्रिकेटर नहीं बनना चाहती थी. तो आइये जानते है कि मिताली ने इस इंटरव्यू में क्या खास बोला;

अपने पिता की वजह से बनी क्रिकेटर

Image result for मिताली राज

इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया कि

“मेरी मां मुझे क्रिकेट में नहीं भेजना चाहती थीं, लेकिन मेरे पिता मुझे क्रिकेट में लेकर आए. मेरी मां चाहती थीं कि मैं डांसर बनूं मैंने क्रिकेट से काफी पहले डांस शुरू कर दिया था. मैं भी इसे पसंद करती थी. मैं डांसर बनना चाहती थी.”

आगे बोलते हुए उन्होंने कहा कि

“मै डांस को काफी पसंद करती थीं और इसका लुत्फ उठाती थीं. मैं डांस करती थी, लेकिन फिर क्रिकेट आया. मेरे माता-पिता को काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ा. दक्षिण भारत के परिवार से आने के कारण क्रिकेट मेरे परिवार में कहीं नहीं था. मेरे परिवार में भी किसी ने क्रिकेट नहीं खेला था. मेरे दादा-दादी को मेरा लड़कों के साथ क्रिकेट खेलना पंसद नहीं था.”

अपने परिजनों की किया तारीफ

Image result for मिताली राज

इंटरव्यू के दौरान उन्होंने अपने परिजनों की तारीफ की. इस दौरान उन्होंने कहा कि

“उनके होने की वजह से ही मुझे कभी भी किसी भी तरह के तानों का सामना नहीं करना पड़ा. कई बार लोग उनसे मेरे क्रिकेट खेलने को लेकर सवाल करते थे, लेकिन उन्होंने कभी भी मुझ तक कोई भी बात नहीं आने दी.”

आप को बता दे कि आज मिताली भारत की सबसे सफल महिला क्रिकेट खिलाड़ी हैं. वो अभी तक 194 वनडे खेल चुकी हैं, जिसमें उन्‍होंने 50 की औसत से 6,373 रन बनाए हैं.

वनडे में मिताली के नाम छह शतक और 50 अर्धशतक हैं. मिताली ने टेस्‍ट में 10 मैचों में एक शतक ओर चार अर्धशतक बनाए हैं. इसके अलावा भारत उन्ही की कप्तानी में दो बार वर्ल्ड कप फाइनल में पहुंचा है.

Related posts

Leave a Reply

Required fields are marked *