IPL 2022: 'ना खाने के लिए पैसे थे, ना खेलने के लिए पैड...' जानिए कैसे पापा के कहने पर क्रिकेटर बने मोईन अली
IPL 2022: 'ना खाने के लिए पैसे थे, ना खेलने के लिए पैड...' जानिए कैसे पापा के कहने पर क्रिकेटर बने मोईन अली

पिछले कुछ सालों से चेन्नई सुपर किंग्स को आईपीएल में जो भी सफलता हासिल हुई है, उसमें टीम के स्टार ऑलराउंडर मोईन अली का एक बड़ा हाथ रहा है. इस साल चेन्नई की टीम ने अपने स्टार ऑलराउंडर को मेगा ऑक्शन से पहले ही रिटेन कर लिया था. हालांकि मौजूदा सीजन चेन्नई के लिए कुछ ख़ास नहीं रहा और मुंबई के बाद चेन्नई टूर्नामेंट से बाहर होने वाली दूसरी टीम बनी. इसी बीच मोईन ने खुलासा किया है कि शुरुआत में उनका जीवन कितना संघर्षों से भरा हुआ था.

मेरे पिता ने मुझे दो साल दिए

Moeen Ali
Moeen Ali

अपने क्रिकेट के सफ़र के बारे में बात करते हुए इंग्लिश ऑलराउंडर ने कहा कि,

“मेरे पिताजी ने कहा, ’13-15 के बीच, मुझे अपने जीवन के दो साल दो. स्कूल के बाद हम ट्रेनिंग करते, हम बाहर पार्क में जाते हैं, जो कुछ भी करना पड़ता है वह करते हैं. आपके जीवन के 2 वर्ष. उसके बाद तुम जो चाहो करो. वह वास्तव में वह मानसिकता थी जो उन्होंने मुझे दी थी. हर दिन ट्रेनिंग. बेशक, मैं अपने दोस्तों के साथ घूमना चाहता था और वही करना चाहता था जो बाकी सभी बच्चे करते हैं.(लेकिन) साथ ही, यह मेरे पिताजी की ड्राइव, उनका जुनून था, जिसने वास्तव में हमारा ध्यान केंद्रित किया और हमें कायम रखा. हम इस बात पर अड़े थे कि हम इसे बनाने जा रहे हैं और यही रवैया हमारे पिताजी से आया है.”

हमारे पास अधिक पैसे नहीं थे

Moeen Ali
Moeen Ali

इंग्लिश खिलाड़ी ने आगे कहा कि,

“हम बहुत अच्छे नहीं थे. हमारे पास बहुत पैसा नहीं था. हम पेट्रोल, कभी-कभी खाना नहीं खरीद सकते थे. एक समय मेरे पास अपने पैड भी नहीं थे; मुझे ट्रेनिंग के लिए अपने पिता के सबसे अच्छे दोस्त के बेटे के पैड का इस्तेमाल करना पड़ा. तो, हाँ, यह बहुत कठिन था. यहां तक कि जिस क्षेत्र में हम रह रहे थे, वह बहुत रफ इलाका था.”