भारतीय टीम के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर का मानना है कि टीम के लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट के अंतिम दिन अहम भूमिका निभाएंगे। जडेजा को पहले चार टेस्ट मैचों में रविचंद्रन अश्विन की जगह मौका दिया गया है, लेकिन वे अभी तक ज्यादा प्रभावशाली नहीं दिखे हैं। हालांकि, भारतीय टीम के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर का कहना है कि अंतिम दिन स्पिनर की भूमिका अहम होगी। ऐसा ही कुछ इंग्लैंड की टीम के स्पिनर मोइन अली ने भी कहा है।

विक्रम राठौर ने इस खिलाड़ी को माना आज के लिए अहम

राठौर ने चौथे दिन के खेल के बाद वर्चुअल प्रेस कान्फ्रेंस में कहा,

“मुझे लगता है कि अंतिम दिन जडेजा अहम भूमिका निभाएंगे, क्योंकि पांचवें दिन पिच स्पिनरों की मददगार हो सकती है। वह अच्छी गेंदबाजी करते हैं। जडेजा नियंत्रित होकर गेंदबाजी करते हैं, पिछले 5-6 ओवर में उन्होंने काफी मौके बनाए। पांचवें दिन भाग्य ने साथ दिया तो इन मौकों से विकेट मिल सकते हैं। जडेजा इन कारणों की वजह से महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। उनके अलावा मध्य तेज गेंदबाजों को भी बेहतर करना होगा।”

उधर, इंग्लैंड की टीम के उपकप्तान मोइन अली ने कहा है कि लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा मैच के आखिरी दिन इंग्लैंड के लिए सबसे बड़ा खतरा होंगे। इंग्लैंड को चौथे टेस्ट मैच को जीतने के लिए 368 रनों के लक्ष्य का पीछा करना है, जिसमें से 77 रन टीम ने बना लिए हैं। मैच के चौथे दिन भारतीय गेंदबाजों को एक भी विकेट नहीं मिला। ऐसे में पांचवें दिन का खेल अहम होने वाला है, लेकिन मोइन अली ने जडेजा को बड़ा खतरा बताया है।

मोईन अली ने भी इस भारतीय खिलाड़ी को माना खतरा

उन्होंने स्काइ स्पोर्ट्स से बात करते हुए कहा,

“जसप्रीत बुमराह उन गेंदबाजों में से एक हैं जो कुछ भी कर सकते हैं, लेकिन रवींद्र जडेजा इस विकेट पर सबसे बड़ा खतरा हैं। यह इतना सपाट विकेट है, लेकिन हमें अभी भी अच्छा खेलना होगा। भारत हमेशा मजबूती से लड़ता है और हमें इससे सावधान रहना होगा।”

मोइन अली ने अपनी टीम के सलामी बल्लेबाज रोरी बर्न्स और हसीब हमीद की भी तारीफ की।