//

मोहम्मद आसिफ का बेतुका बयान, शोएब अख्तर की गेंदों पर सचिन तेंदुलकर कर रहे थे आंखे बंद

साल 2010 में स्पॉट फिक्सिंग में फंसे पाकिस्तान टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ एक बेतुका बयान देकर सुर्खियों में आ गए हैं. दरअसल, उन्होंने कहा है कि साल 2006 के कराची टेस्ट मैच के दौरान सचिन तेंदुलकर, उनके साथी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर की बाउंसर्स गेंदों के आगे अपनी आंखें बंद कर ले रहे थे.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

अख्तर की बाउंसर्स पर सचिन कर रहे थे आंखें बंद

मोहम्मद आसिफ का बेतुका बयान, शोएब अख्तर की गेंदों पर सचिन तेंदुलकर कर रहे थे आंखे बंद 1

पाकिस्तान के फिक्सिंग में फंसे तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ ने अपने एक बयान में कहा, “साल 2006 में भारत की टीम पाकिस्तान आई थी. टीम के पास काफी मजबूत बैटिंग लाइनअप थी. सहवाग बेहतरीन फॉर्म में थे. फैसलाबाद टेस्ट में दोनों टीमों ने 600 रन बनाए. लेकिन वो ड्रॉ हो गया.

तीसरे टेस्ट में पठान ने हैट्रिक लेकर हमें बैकफुट पर ढेकल दिया, लेकिन इस मैच में शोएब अख्तर ने कुछ ऐसे तेज बाउंसर्स मारे जो सचिन को दिखे नहीं और उन्होंने अपनी आंखें बंद कर ली.

शोएब अख्तर कर रहे थे लगातार तेज गेंदबाजी

मोहम्मद आसिफ का बेतुका बयान, शोएब अख्तर की गेंदों पर सचिन तेंदुलकर कर रहे थे आंखे बंद 2

मोहम्मद आसिफ ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा, “मैं उस दौरान स्क्वॉयर लेग पर खड़ा था और शोएब अख्तर लगातार तेज गेंदबाजी कर रहे थे. इस बीच मैंने देखा कि एक दो बाउंसर्स के खिलाफ सचिन ने अपनी आंखें बंद कर ली थी. भारतीय टीम बैकफुट पर थी और ऐसे में हम हार के मुंह से जीत को खींच कर ले आए थे.”

भारत को मैच में 341 रन से करना पड़ा था हार का सामना

मोहम्मद आसिफ का बेतुका बयान, शोएब अख्तर की गेंदों पर सचिन तेंदुलकर कर रहे थे आंखे बंद 3

इस कराची टेस्ट मैच में पाकिस्तान की टीम अपनी पहली पारी में 245 रनों पर ऑलआउट हुआ था, टीम इंडिया 238 रनों पर पहली पारी में सिमट गई थी. दूसरी पारी में पाकिस्तान ने सात विकेट पर 599 रनों पर पारी घोषित की और टीम इंडिया जवाब में 265 रनों पर सिमट गई.

भारत को उस मैच में 341 रनों से हार का सामना करना पड़ा था. आसिफ ने उस मैच में कुल सात विकेट लिए थे, पहली पारी में चार और दूसरी पारी में उन्होंने तीन विकेट झटके थे. उस सीरीज में पाकिस्तान ने 1-0 से जीत दर्ज की थी. सीरीज के पहले दो टेस्ट मैच ड्रॉ पर खत्म हुए थे.