इन 2 खिलाड़ियों में दिखती है अजहर को अपनी बल्लेबाजी की छवि

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

रोहित, धवन व धोनी में नहीं बल्कि इन दो खिलाड़ियों में दिखती है मोहम्मद अजहरुद्दीन को अपनी छवी 

रोहित, धवन व धोनी में नहीं बल्कि इन दो खिलाड़ियों में दिखती है मोहम्मद अजहरुद्दीन को अपनी छवी

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन हाल ही में यूएई-इंडिया इकॉनामिक फोरम के सदस्य के रूप में शामिल हुए, जहां उन्होंने ‘टू नेशन्स वन पैशन’ विषय पर अपनी बात रखी व भारतीय टीम से लेकर व अपने क्रिकेट करियर के बारे में कई रोचक बातें कही है.

भारत-पाकिस्तान सीरीज सिर्फ सरकारों पर निर्भर

रोहित, धवन व धोनी में नहीं बल्कि इन दो खिलाड़ियों में दिखती है मोहम्मद अजहरुद्दीन को अपनी छवी 1

मोहम्मद अजहरुद्दीन ने भारत-पाकिस्तान दोनों देशो के बीच क्रिकेट बहाली को लेकर कहा, “यह दोनों देशों के सरकारों पर निर्भर करता है. ये खिलाड़ी नहीं है जो निर्धारित करते है. दो सरकारें इस पर निर्णय लेती है और किसी के विचार इस पर मायने नहीं रखते है. हम कह सकते है, कि ये हमारी राय है, लेकिन उस राय के बारे में विचार नहीं किया जायेगा, क्योंकि ये बातें कूटनीतिज्ञ स्तर पर हो रही है. 

स्पोर्ट्स एक मुद्दा है, लेकिन इसके बाद अन्य कई मुद्दे भी है, जैसे कि सिक्यूरिटी और ना जाने कितने अलग मुद्दे है, इसलिए हर चीज को एक साथ रखा जाये यह बहुत आसान नहीं है.”

रहाणे-कोहली में दिखती है अपनी जैसी कलाइयों के इस्तेमाल की छवी

रोहित, धवन व धोनी में नहीं बल्कि इन दो खिलाड़ियों में दिखती है मोहम्मद अजहरुद्दीन को अपनी छवी 2

आपको बता दे, कि अजहरुद्दीन को अपने समय का कलाइयों का जादूगर कहा जाता था मोहम्मद अजहरुद्दीन मौजूदा भारतीय टीम में अपनी छाप अजिंक्य रहाणे और विराट कोहली में देखते है इस बात को लेकर अजहरुद्दीन ने कहा, “ये    चीजें स्वाभाविक रूप से आती है. आप ये नहीं कह सकते है, कि कलाइयों का इस्तेमाल सीखने के लिए आपको प्रैक्टिस करनी होगी. कभी-कभी चीजें आप पर स्वाभाविक रूप से आती है और आप बेहतर करते जाते हो. मैं लकी हूं, कि मेरे पास वो टैलेंट है.”

जब मैंने अपना पहला शतक लगाया तो मैं इस बारे में कुछ नहीं जानता था. अब ज्यादातर खिलाड़ी कलाइयों का इस्तेमाल करने लगे है. रहाणे और कोहली भी अपनी कलाइयों का अच्छा इस्तेमाल करते है. क्रिकेट का गेम बदल रहा है और इसमें कलाइयों का बड़ा योगदान है.”

100 टेस्ट ना खेल पाने का अफ़सोस नहीं

रोहित, धवन व धोनी में नहीं बल्कि इन दो खिलाड़ियों में दिखती है मोहम्मद अजहरुद्दीन को अपनी छवी 3

आपको बता दे कि अजहरुद्दीन उन चंद क्रिकेटरों में से एक है जिन्होंने अपने अंतिम टेस्ट में शतक लगाया था. हालाँकि वह भारतीय टीम के लिए 99 टेस्ट मैच ही खेल पाये. अजहरुद्दीन ने अपने 99 टेस्ट मैच खेलने को लेकर कहा, “मुझे  इसका कोई अफ़सोस नहीं है मैं खुश हूं, कि मैंने 99 टेस्ट मैच भारत के लिए खेले और मैं अपनी इस बात से भी काफी खुश हूं कि मैंने अपने पहले और अंतिम टेस्ट मैच में शतक लगाया, इसलिए मुझे कोई अफ़सोस नहीं है. इसी तरह से मेरे करियर का अंत होना चाहिए था. यह किस्मत है. आपको आगे बढ़ना होता है और स्वीकार करना होता है.”

रोहित, धवन व धोनी में नहीं बल्कि इन दो खिलाड़ियों में दिखती है मोहम्मद अजहरुद्दीन को अपनी छवी 4

वीडियो ऑफ़ द डे

 

 

Related posts

Leave a Reply