हिजाब पहनने से मना करने वाली भारतीय शतरंज खिलाड़ी सौम्या के फैसले पर मोहम्मद कैफ ने कही बड़ी बात

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सौम्या ने हिजाब पहनने से किया इंकार, टूर्नामेंट से नाम लिया वापस, तो मोहम्मद कैफ बोल गये ये बड़ी बात 

सौम्या ने हिजाब पहनने से किया इंकार, टूर्नामेंट से नाम लिया वापस, तो मोहम्मद कैफ बोल गये ये बड़ी बात

ईरान में एशियन देशों के बीच चेस चैंपियनशिप प्रतियोगिता का आयोजन होना है। हालांकि यह प्रतियोगिता आयोजन से पहले ही विवादों से घिर चुकी है। दरअसल भारतीय शतरंज खिलाड़ी सौम्या स्वामीनाथन ने ईरान में होने वाली चेस प्रतियोगिता में शामिल होने से मना कर दिया है। इस बात की जानकारी उन्होंने अपनी फेसबुक पोस्ट के जरिए दी। दरअसल ईरान के इस्लामिक कानून के मुताबिक वहां पर महिलाओं को हिजाब पहनना जरूरी है।

चाहे वो किसी प्रतियोगिता में आई विदेशी व गैर-मुस्लिम महिला ही क्यों न हो? सौम्या ने इसे निजी आधिकारों का उल्लघंन करार देते हुए प्रतियोगिता में शामिल होने से मना कर दिया है। अब सौम्या के समर्थन में पूर्व भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद कैफ भी उतर आए।

सौम्या ने हिजाब व बुर्का पहनने से किया मना

भारतीय शतरंज खिलाड़ी सौम्या स्वामीनाथन ने दुख भरे अदांज में फेसबुक में एक बड़ी पोस्ट लिखी, जिसमें उन्होंने ईरान न जाने का कारण भी बताया।

सौम्या ने अपनी पोस्ट में लिखा कि,

”मुझे यह बताने में काफी दुख हो रहा है कि 26 जुलाई से 4 अगस्त तक ईरान में होने वाली एशियाई देशों की चेस प्रतियोगिता में भारतीय टीम को शामिल न करने के बारे में बताया गया। क्योंकि मैंने जबरदस्ती बुर्का या हिजाब पहनने से साफ इंकार कर दिया था। ईरान में महिलाओं को हिजाब पहना अनिवार्य है, लेकिन यह निजी तौर पर हमारे मौलिक आधिकारों का हनन है। वर्तमान समय में हमारे पास अपने अधिकारों की रक्षा करने के लिए सिर्फ यही एक तरीका है कि मैं ईरान नहीं जाऊं।”

 

यहां पढ़ें सौम्या की पोस्ट 

I am very sorry to state that I have asked to be excused from the Indian Women's team for the forthcoming Asian Nations…

Gepostet von Soumya Swaminathan am Samstag, 9. Juni 2018

 

देश के लिए खेलना गर्व की बात

 

सौम्या ने अपनी पोस्ट में आगे लिखा कि,

”अपने देश का प्रतिनिधित्व करना हर बार हमारे लिए गर्व की बात है। यह सहाुनभूति उस समय भी होती जब हम राष्ट्रीय टीम में चुनी जाती । लेकिन मुझे काफी दुख है कि मै इतने महत्वपूर्ण प्रतियोगिता में हिस्सा नहीं ले पाऊंगी। हालांकि हम एक खिलाड़ी के रूप में कई फैसले सिर्फ अपने खेल के लिए लेते हैं। इन फैसलो को हम अपनी जिंदगी से भी ज्यादा महत्व देते हैं, लेकिन कुछ चीजों में समझौता नहीं किया जा सकता है।”

 

सौम्या के समर्थन में उतरे मोहम्मद कैफ

रातों-रात खिलाड़ी सौम्या स्वामीनाथन के समर्थन में देश की कई दिग्गज हस्तियां उतर आई। सौम्या के पोस्ट को लाखों लोगों ने लाईक और शेयर किया  है। इसी कड़ी में पूर्व भारतीय खिलाड़ी मोहम्मद कैफ भी जुड़ चुका है। मोहम्मद कैफ ने एक पोस्ट के जरिए सौम्या के फैसले की प्रशंसा की।

ट्वीट करते हुए क्रिकेटर मोहम्मद कैफ लिखते हैं कि,

”मैं ईरान में होने वाली प्रतियोगिता में सौम्या स्वामीनाथन के फैसले को सलाम करता हूं। खिलाड़ियों में किसी तरह की धार्मिक ड्रेस कोड की कोई जगह नहीं है। ऐसे किसी भी देश को इस तरह की अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता को आयोजित करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए, जो मौलिक मानवाधिकार को लागू करने में असफल हैं।”

Related posts

Leave a Reply