भारत और साउथ अफ्रीका के बीच फ्रीडम सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच चल रहा है। सेंचुरियन के इस मैदान पर मैच शुरू होने से पहले कयास लगाए जा रहे थे कि इसमें काफी पेस और बाउंस होगा लेकिन मैच शुरू होने के बाद ऐसा कुछ लगा नहीं।

भारत की ओर से भुवनेश्वर कुमार को ड्रॉप करके इंशात शर्मा को दूसरे मैच में मौका दिया गया हालांकि इशांत ने मैच में अच्छी गेंदबाजी की। हालांकि उन्हें विकेट तो एक ही एबी डीविलियर्स के रूप में मिला लेकिन उन्होंने पूरे मैच में सटीक लाइन और लैंथ पर गेंदबाजी की जिससे मेजबान टीम के बल्लेबाजों को रन बनाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

पहले दिन शमी ने की सबसे कम गेंदबाजी

दूसरी ओर मोहम्मद शमी को लेकर भी बातें हो रही है। मोहम्मद शमी टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे सुसंगत और विश्वसनीय गेंदबाजों में से एक है। वह गेंद को स्विंग करने की क्षमता रखते हैं, जिससे कई बार बल्लेबाजों को उन्होंने आउट किया है। बंगाल के इस तेज गेंदबाज ने भारत के बाहर विदेशी पिचों पर भी कई बार अपनी शानदार गेंदबाजी से सभी को प्रभावित किया है।

उन्होंने पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में भी अपनी गेंद से विपक्षी गेंदबाज को परेशान किया था। दूसरे मैच में भी उनसे काफी उम्मीदें हैं लेकिन अभी तक वो विपक्षी बल्लेबाजों पर कोई असर नहीं छोड़ पाए हैं। दूसरे मैच के पहले दिन उन्होंने सबसे कम गेंदबाजी की और सबसे ज्यादा रन दिए। शमी ने पहले दिन 11 ओवर डाले, जिसमें उन्होंने 4 से ज्यादा की इकॉनोमी रेट से 46 रन दिए। 11 ओवर्स डालने के बाद शमी के साथ कुछ फिटनेस प्रॉबल्म भी हुई जिस वजह से वो और गेंदबाजी नहीं कर पाए।

नए गेंद से शमी को गेंदबाजी करना जरूरी

कप्तान विराट कोहली ने शमी के बॉलिंग इंड को भी बदला लेकिन उससे भी कुछ खास प्रभाव नहीं पड़ पाया। शमी थके हुए से लग रहे थे और आखिरकार वो मैदान से बाहर चले गए। भारत ने 87वें ओवर में नई गेंद ली और उस वक्त शमी के गेंदबाजी करने से शायद भारत को कुछ खास फायदा हो सकता था लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

हालांकि अश्विन ने एक ही  दिन में 31 ओवर्स डालकर मात्र 90 रन दिए विकेट और 3 विकेट भी लिए और वहीं हार्दिक पांड्या की शानदार फिल्डिंग की वजह से पहले दिन के आखिरी सीजन में मैच भारत के तरफ थोड़ा झुक गया।

भुवनेश्वर या शमी

अब दूसरे दिन देखना होगा कि मोहम्मद शमी कैसी और कितनी गेंदबाजी करते हैं। अगर शमी दूसरे दिन भी कम गेंदबाजी करते हैं तो निश्चित तौर पर सवाल उठने लगेंगे, कि क्या भुवनेश्वर को ड्रॉप करने की जगह शमी को ड्रॉप नहींं किया जा सकता था।

Related Articles

चेन्नई के खिलाफ होने वाले बड़े मैच से पहले वीवी एस लक्षमण ने दिया...

इंडिनय प्रीमियर लीग के 11वें सीजन में चेन्नई सुपरकिंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच पहला मैच रविवार को हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम...

…. तो ये हैं स्विंग के सुल्तान भुवनेश्वर कुमार की शानदार गेंदबाजी का राज,...

भुवनेश्वर कुमार भारत के एक बहुमूल्य खिलाड़ी हैं. उन्होंने अपनी काबलियत को क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में शाबित कर दिखाया है. पिछले कुछ सालों...

आरसीबी के खिलाफ मिली शानदार जीत के बाद आखिर किस बात का अफ़सोस मना...

इण्डियन प्रीमियर लीग का 21वां मुकाबला मुंबई इंडियंस टीम को राजस्थान राॅयल्स के खिलाफ खेलना है। हालांकि इसके पहले इस सीजन के कुल चार...

अनचाहा कीर्तिमान: साथी खिलाड़ियों को ‘रन-आउट’ करवाने के मामले में इस स्थान पर किंग...

क्रिकेट के दुनिया का एक बड़ा नाम बन चुके विराट कोहली इन दिनों आईपीएल में धमाल मचा रहे हैं. बंगलौर की कमान संभालते हुए...

लगातार मिल रही हार के बीच गौतम गंभीर की कप्तानी पर गिर सकती हैं...

आईपीएल के 11वें सीजन का 25 प्रतिशत भाग खत्म हो चुका है। आईपीएल के 11वें सीजन में भी दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम हर बार...