मोइन अली

इंग्लैंड के ऑलराउंडर मोईन अली पर विवादित ट्वीट करके बांग्लादेश की लेखिका तस्लीमा नसरीन सुर्खियों में हैं. उन्होंने कहा कि, ‘मोईन अली अगर क्रिकेट नहीं खेल रहे होते तो सीरिया जाकर ISIS से जुड़ जाते. बांग्लादेश की लेखिका के इस ट्वीट के बाद मोइन अली की टीम के साथ खिलाड़ियों ने भी इसका विरोध किया. मोइन अली ने भले ही अभी तक इस मामले कुछ ना कहा हो लेकिन उनके पिता ने करारा जवाब दिया है.

मोइन अली पर किए गए विवादित ट्वीट से पिता हैं आहत

मोइन अली

इस पूरे मामले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए इंग्लिश क्रिकेट मोइन अली के पिता मुनीर अली ने कहा है कि तस्लीमा नसरीन के विवादित ट्वीट को पढ़कर मैं काफी आहत हुआ हूं. उन्होंने बांग्लादेशी लेखिका पर गुस्सा दिखाते हुए कहा है कि एक बार उनका अपना ट्वीट खुद पढ़ना चाहिए और सोचना चाहिए कि उन्होंने क्या कहा है.

मुनीर अली ने आगे कहा कि जब मैं किसी दिन तस्लीमा नसरीन से मिलूंगा तो उनको बताउंगा कि मैं उनके बारे में क्या सोचता हूं.

तस्लीमा नसरीन ने विवादित ट्वीट तब किया, जब हाल ही में मोईन अली ने चेन्नई सुपर किंग्स की जर्सी पर लगे बीयर के लोगों को हटाने की मांग की थी. हालांकि बाद में इस पर CSK के सीईओ काशी विश्वनाथन का बयान आया कि मोईन अली ने लोगो हटाने जैसी किसी चीज की मांग नहीं की.

मोइन अली के समर्थन में उतरे जोफ्रा आर्चर

मोइन अली

मोईन अली के समर्थन में इंग्लैंड टीम के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने तस्लीमा को जवाब दिया है.

यह कोई पहला मौका नहीं है जब तस्लीम नसरीन ने विवादित बयान को देकर विवाद खड़ा किया हो इससे पहले भी उन्होंने कई बार विवादित बयान देकर सुर्खियां बटोरी हैं. उन्हें कई बार कटरपंथी लोगों से जान से मारने की धमकियां भी मिल चुकी हैं जिसके चलते उन्हें अपना देश छोड़कर स्टीडेन में शरण लेनी पड़ी है.