पिछले 3 सालों में इन 5 पारियों में चेज हुए 250 से अधिक रन, इंग्लैंड की पारी सर्वश्रेष्ठ

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पिछले 3 सालों में 5 बार जब चौथी पारी में 250 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम ने जीता मैच 

पिछले 3 सालों में 5 बार जब चौथी पारी में 250 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम ने जीता मैच
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट के सबसे पुराने फॉर्मेट यानि की टेस्ट क्रिकेट लोगों को खासा पसंद होता था लेकिन वनडे और टी20 के आने से क्रिकेट प्रेमियों की रुचि टेस्ट से कम होने लगी। इसलिए आईसीसी ने टेस्ट चैंपियनशिप की शुरूआत की है ताकि लोगों की टेस्ट के प्रति रुचि दोबारा से बढ़ जाए।

लेकिन कोई कुछ भी कहे लेकिन जो असली क्रिकेट प्रेमी होते हैं उन्हें तो आज भी टेस्ट क्रिकेट देखने में उतना ही मजा आता है जितना पहले आता था। जी हां, टेस्ट में वह लंबे-लंबे रन चेज, नाइटवॉचमैन की अहमियत, खिलाड़ियों का बेहतरीन अंदाज और भी न जाने कितना कुछ देखने को मिलता है।

तो आइए आज हम आपको पिछले तीन सालों में टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक रन चेज पारियों के बारे में बताते हैं। कि कैसे एक पल में टेस्ट में पासा पलटता है। टीमें जीतते-जीतते हार जाती हैं तो वहीं विपक्षी टीम हारते-हारते जीत जाती हैं।

1- श्रीलंका बनाम जिम्बाब्वे 2017

श्रीलंका बनाम जिम्बाब्वे के बीच 2017 में खेला गया टेस्ट मैच काफी रोमांचक था, क्योंकि इस मैच में जिम्बाब्वे जीतते-जीतते रह गई थी। श्रीलंका दौरे में जिम्बाब्वे ने 5 मैचों की वनडे सीरीज में 3-2 से श्रीलंका को हराकर सभी को चौका दिया था।

पिछले 3 सालों में 5 बार जब चौथी पारी में 250 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम ने जीता मैच 1

पहले बल्लेबाजी करते हुए जिम्बाब्वे ने क्रेग इर्विन की 160 रनों की पारी की मदद से शानदार 356 रन बनाए। इस पारी में श्रीलंका के गेंदबाज रंगना हेराथ ने 32 ओवरों में जिम्बाब्वे के 5 विकेट लेकर प्रभावित किया।

मेजबान श्रीलंका टीम ने उपुल थरंगा क 71 रनों की मदद से 346 रन बनाए। ज़िम्बाब्वे के कप्तान ग्रीम क्रेमर ने 5 विकेट लेकर मेजाबनों की कमर तोड़ दी।

मेहमान टीम ने दूसरी पारी में खराब शुरूआत से उबरते हुए सिकंदर रजा की 127 रनों की मदद से 318 रन बनाए।हालांकि,जिम्बाब्वे के बल्लेबाजी क्रम के निचले आधे हिस्से द्वारा दिखाए गए प्रतिरोध से मेजबान टीम दंग रह गई और  श्रीलंकाई टीम को 387 का लक्ष्य मिला।

पिछले 3 सालों में 5 बार जब चौथी पारी में 250 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम ने जीता मैच 2

इतने भारी भरकम लक्ष्य  का पीछा करने उतरी श्रीलंका टीम ने भी अपनी बल्लेबाजी का दमखम दिखाया। मेजबान टीम के कुसल मेंडिस (66), डिकवेला (81) और गुणारत्ने (नाबाद 80) के महत्वपूर्ण योगदान से टीम ने लक्ष्य हासिल कर लिया।

श्रीलंका ने अपना सर्वाधिक रन चेज़ हासिल किया और 4 विकेट्स से मेहमान टीम को हरा दिया। इस मैच में असेला गुनारत्ने को मैन ऑफ द मैन के खिताब से नवाजा गया।

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

Related posts