मोर्ने मोर्केल ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट में हुआ एक युग का अंत, दिग्गज तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल ने कहा नम आंखों से क्रिकेट को अलविदा 

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट में हुआ एक युग का अंत, दिग्गज तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल ने कहा नम आंखों से क्रिकेट को अलविदा

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट इतिहास में आज एक युग का अंत हो गया है जब दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल ने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट से अलविदा कह दिया है। ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली गई चार मैचों की टेस्ट सीरीज के चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका की जीत के साथ ही मोर्ने मोर्केल ने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट को थाम लिया है।

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट में हुआ एक युग का अंत, दिग्गज तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल ने कहा नम आंखों से क्रिकेट को अलविदा 1

मोर्ने मोर्केल ने इंटरनेशनल क्रिकेट को कहा अलविदा

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट इतिहास के सबसे कामयाब तेज गेंदबाजों में से एक मोर्ने मोर्केल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई घरेलु टेस्ट सीरीज के पहले ही अपने इंटरनेशनल क्रिकेट को विराम लगाने का फैसला कर लिया था। मोर्ने मोर्केल के लिए ये सीरीज मिली जुली रही और उन्होंने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट करियर की अंतिम सीरीज में तीन टेस्ट मैचों में 15 विकेट हासिल किए।

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट में हुआ एक युग का अंत, दिग्गज तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल ने कहा नम आंखों से क्रिकेट को अलविदा 2

ऑस्ट्रेलिया के खिताफ जीत के बाद मोर्केल ने लिया संन्यास

मोर्ने मोर्केल ने मंगलवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जॉहानिसबर्ग में खेले गए चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीकी टीम की 492 रनों की जबरदस्त जीत के बाद आखिरकार इंटरनेशनल क्रिकेट से विदाई ले ली। साल 2006 में अपने इंटरनेशनल करियर की शुरूआत करने वाले मोर्ने मोर्केल ने दक्षिण अफ्रीका को कई यादगार जीत दिलवायी।

12 साल तक दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम को दी अपनी सेवाएं

मोर्ने मोर्केल ने 12 साल तक इंटरनेशनल करियर में दक्षिण अफ्रीका की टीम का प्रतिनिधित्व किया। 33 साल के मोर्ने मोर्केल का जन्म 6 अक्टूबर 1984 को ट्रांसवाल में हुआ था। मोर्केल को बचपन से ही क्रिकेट के प्रति बहुत ही लगाव था। साथ ही उनके बड़े भाई एल्बी मोर्केल भी क्रिकेटर रहे हैं ऐसे में दोनों भाई शुरू से ही क्रिकेट खेला करते थे।

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट में हुआ एक युग का अंत, दिग्गज तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल ने कहा नम आंखों से क्रिकेट को अलविदा 3

जबरदस्त रहा है टेस्ट करियर

साल 2006 में अपने इंटरनेशनल करियर की शुरूआत करने वाले मोर्ने मोर्केल ने दक्षिण अफ्रीका के लिए 85 टेस्ट मैच खेले। इसमें 158 पारियों में 27.73 की औसत से मोर्केल ने 306 विकेट अपने नाम किए। मोर्ने ने इस दौरान 15 बार 4 विकेट हॉल तो 8 बार 5 विकेट हॉल बने।

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट में हुआ एक युग का अंत, दिग्गज तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल ने कहा नम आंखों से क्रिकेट को अलविदा 4

वनडे करियर में भी मोर्केल नहीं रहे किसी से कम

वहीं जब मोर्ने मोर्केल के वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट के रिकॉर्ड की बात करें तो वहां पर भी मोर्केल ने अपनी गेंदबाजी से खास छाप छोड़ी है। मोर्ने ने वनडे क्रिकेट में खेले 117 मैचों में 188 विकेट हासिल किए इस दौरान मोर्केल का औसत 25.32 का रहा। 7 बार 4 विकेट हॉल तो 2 बार 5 विकेट हॉल बनाया।

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट में हुआ एक युग का अंत, दिग्गज तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल ने कहा नम आंखों से क्रिकेट को अलविदा 5

टी-20 क्रिकेट में भी मोर्केल ने दिखाया अपना दम

टी-20 क्रिकेट में भी मोर्केल ने अपना दम दिखाया। क्रिकेट के इस सबसे छोटे फॉर्मेट में मोर्ने मोर्केल ने अपनी टीम का प्रतिनिधित्व 44 मैचों में किया यहां पर मोर्केल ने 7.50 की इकॉनोमी से 47 विकेट अपने नाम किए।

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट में हुआ एक युग का अंत, दिग्गज तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल ने कहा नम आंखों से क्रिकेट को अलविदा 6

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आए तो प्लीज इसे लाइक और शेयर करें।

Related posts

Leave a Reply