10 साल बाद धोनी ने खुद बताया क्यों बनाया गया था उन्हें 2007 में भारतीय टीम का कप्तान

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

10 साल बाद महेंद्र सिंह धोनी ने खुद खोला राज, बताया सहवाग, गंभीर जैसे दिग्गजों के होने के बाद भी क्यों उन्हें मिली 2007 में टीम की कप्तानी 

10 साल बाद महेंद्र सिंह धोनी ने खुद खोला राज, बताया सहवाग, गंभीर जैसे दिग्गजों के होने के बाद भी क्यों उन्हें मिली 2007 में टीम की कप्तानी

आज हर किसी की जुबान पर भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का ही नाम सुनने को मिल रहा हैं. मौजूदा समय में हम सभी यह बात अच्छे से जानते हैं, कि एमएस धोनी भारतीय टीम में एक बार फिर से एक विकेटकीपर खिलाड़ी के भूमिका में खेलने लगे हैं. एक समय हुआ करता था, जब धोनी के टीम के कप्तान हुआ करते थे, लेकिन अब पूरा एक साल होने को आया जब महेंद्र सिंह धोनी एक अनुभवी खिलाड़ी के तौर पर टीम के साथ जुड़े हैं.

महेंद्र सिंह धोनी ना सिर्फ भारत देश के, बल्कि विश्व क्रिकेट के सबसे सफलतम क्रिकेट कप्तान रहे. टीम इंडिया को एमएस धोनी ने अपनी कप्तानी ने ना जाने कितने ही बड़े बड़े ख़िताब जीताये. महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में ही भारतीय टीम ने 2007 का टी ट्वेंटी, 2011 का एकदिवसीय विश्व कप और 2013 की चैंपियंस ट्रॉफी जीती. इतना ही नहीं एमएस धोनी देश के सबसे पहले ऐसे कप्तान भी रहे, जिनकी कप्तानी में टीम इंडिया ने टेस्ट रैंकिंग में पहले स्थान पर कब्ज़ा किया.

साल 2007 में बनाया गया था कप्तान 

10 साल बाद महेंद्र सिंह धोनी ने खुद खोला राज, बताया सहवाग, गंभीर जैसे दिग्गजों के होने के बाद भी क्यों उन्हें मिली 2007 में टीम की कप्तानी 1

महेंद्र सिंह धोनी को साल 2007 में टीम इंडिया का कप्तान नियुक्त किया गया था और उसके बाद धोनी ने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा और भारतीय क्रिकेट की तस्वीर ही बदलकर रख दी. एमएस धोनी को बड़े ही आशचर्यजनक तरीके के साथ टीम इंडिया का कप्तान बनाया गया था.

धोनी को जब पहली बार टीम इंडिया का कप्तान नियुक्त किया गया, तब उनकी उम्र सिर्फ 26 साल की थी. एक बार को तो पूरा देश महेंद्र सिंह धोनी के नाम के आगे कप्तान देख चौक ही गया था. क्रिकेट के कई जानकार तो यहाँ तक कह बैठे थे, कि टीम में सीनियर खिलाड़ियों के होने के बाद धोनी को कप्तान बनाना कहा तक सही हैं.

गुरूवार, 16 नवम्बर को महेंद्र सिंह धोनी अपने स्टोर SEVEN में थे, जहाँ धोनी से उनके कप्तान बनाने जाने को लेकर सवाल किया. इस पर एमएस धोनी ने अपना जवाब देते हुए कहा, कि

मैं नहीं था चर्चा में 

10 साल बाद महेंद्र सिंह धोनी ने खुद खोला राज, बताया सहवाग, गंभीर जैसे दिग्गजों के होने के बाद भी क्यों उन्हें मिली 2007 में टीम की कप्तानी 2

जब मुझे टीम का कप्तान बनाया हैं, उस समय में चर्चा में भी शामिल नहीं था. मुझे ऐसा लगता हैं, कि इस खेल के प्रति मेरी समझ और मेरी ईमानदारी की वजह से मुझे यह दायित्व सौंपा गया. मैं भले ही उस समय एक युवा खिलाड़ी था, लेकिन जब भी मुझसे खेल के बारे में पूछा जाता था, तब तब मैं बेहिचक अपनी राय प्रकट करता था.

खेल को समझना बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होता हैं. इसके साथ साथ उस वक़्त टीम के अन्य खिलाड़ियों के साथ भी मेरे बहुत ही अच्छे संबंध थे.”

कप्तानी पर एक नजर 

10 साल बाद महेंद्र सिंह धोनी ने खुद खोला राज, बताया सहवाग, गंभीर जैसे दिग्गजों के होने के बाद भी क्यों उन्हें मिली 2007 में टीम की कप्तानी 3

महेंद्र सिंह धोनी ने भारत के लिए पूरे 199 वनडे मैचों में कप्तानी की, जिसमे टीम ने 110 मुकाबले जीते और 74 में हार का सामना करना पड़ा. बात अगर टेस्ट क्रिकेट की करे, तो एमएस धोनी की अगुवाई में देश ने कुल 60 मुकाबले खेले और 29 में जीत का स्वाद चखा.

टी ट्वेंटी क्रिकेट में भी महेंद्र सिंह धोनी ने सबसे ज्यादा 74 मैचों में कप्तानी की, इस दौरान टीम इंडिया ने 41 मैचों में जीत हासिल की और 28 में हार का सामना करना पड़ा.

Related posts

Leave a Reply