आखिर खत्म हो ही गया धोनी के 10 सालों का लम्बा इंतजार | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

आखिर खत्म हो ही गया धोनी के 10 सालों का लम्बा इंतजार 

आखिर खत्म हो ही गया धोनी के 10 सालों का लम्बा इंतजार

भारत और इंग्लैंड की बीच खेली गयी तीन टी ट्वेंटी मैचों की सीरीज खत्म हो गयी हैं. कानपुर में मिली एकतरफा हार के बाद मेजबान भारतीय टीम ने नागपुर और बेंगलुरु टी ट्वेंटी मैच जीतकर इतिहास ही रच दिया.

नागपुर में जहाँ टीम इंडिया पांच रनों से जीतने में कामयाब रही, तो बेंगलुरु में खेले अंतिम मुकाबलें में मेजबान भारतीय टीम ने शानदार 75 रनों से मैच जीतकर अपने नाम किया. विडियो : जब कानपुर वनडे के दौरान सच हुई धोनी की भविष्यवाणी 

अंतिम मैच में भारतीय टीम के लिए कई खिलाड़ियों ने लाजवाब खेल दिखाया. बल्लेबाज़ी में जहाँ सुरेश रैना और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अर्द्धशतक बनाया, तो गेंदबाज़ी में युजवेंद्र चहल ने लाजवाब गेंदबाज़ी कर कई कीर्तिमान रच दिए.

मैच में भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने अंतर्राष्ट्रीय टी ट्वेंटी मुकाबलों में पहला अर्द्धशतक बनाया. आपकों बता दे, कि महेंद्र सिंह धोनी ने अपना पहले अर्द्धशतक के लिए 76वें मैच का सामना करना पड़ा. यही नहीं इतने ज्यादा मैचों का सामना करने के बाद पहला अर्द्धशतक बनाने वाले, धोनी दुनिया के पहले बल्लेबाज़ बन गये. महेंद्र सिंह धोनी के साथ समय बिताने से मुश्किल परिस्थिति में शांत रहना सीखा : केदार जाधव 

अंतर्राष्ट्रीय टी ट्वेंटी क्रिकेट में धोनी से पहले सबसे ज्यादा मैच खेलकर अर्द्धशतक बनाने का शर्मनाक रिकॉर्ड आयरलैंड के गैरी विल्सन के नाम था. गैरी विल्सन ने 42 टी ट्वेंटी मैच खेलने के बाद अपना पहला अर्द्धशतक बनाया था.

अब महेंद्र सिंह धोनी के नाम पर यह रिकॉर्ड दर्ज हो गया हैं. महेंद्र सिंह धोनी ने इंग्लैंड के विरुद्ध बेंगलुरु के मैदान पर 36 गेंदों का सामना करते हुए 5 चौके और 2 लाजवाब छक्कों की मदद से शानदार 56 रनों की पारी खली. युवराज सिंह की ऐतिहासिक पारी देखने के बाद रील लाइफ के धोनी ने कहा कुछ ऐसा, जिसे देखने के बाद आप अपनी हंसी नहीं रोक पायेंगे 

इससे पहले महेंद्र सिंह धोनी का सबसे बढ़िया स्कोर 48 नाबाद था, जो धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था.

Related posts