सीएसके के 3 ऐसे खिलाड़ी जो नहीं थे भारतीय टीम में खेलने के हक़दार, लेकिन फिर भी धोनी ने दिलाई जगह 1
MS Dhoni captain of Chennai Super Kings during match 5 of the Vivo Indian Premier League Season 12, 2019 between the Delhi Capitals and the Chennai Superkings held at the Feroz Shah Kotla Ground, Delhi on the 26th March 2019 Photo by: Deepak Malik /SPORTZPICS for BCCI
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

भारतीय क्रिकेट को लेकर अक्सर कहा जाता है कि यहाँ क्रिकेट के अलावा भी बहुत कुछ खेला जाता है.बीते समय में भारतीय क्रिकेट टीम में कप्तान-कोटे को लेकर काफ़ी बहसे हो चुकी हैं. कप्तान-कोटा यानी कि एक कप्तान के पसंदीदा खिलाड़ियों या साथ खेलने वालों को राष्ट्रीय टीम में आसानी से मौका मिल जाना.

यहँ  हम सफ़ल माने जाने वाले पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी के कप्तान-कोटे की बात करेंगे. साथ ही बताएंगे उन 3  खिलाड़ियों के बारे में जो भारतीय टीम में जगह पाने के हक़दार न होने के बावजूद बस धोनी की आईपीएल टीम सीएसके में होने की वजह टीम इंडिया में भी आसानी से जगह बना गए.

मनप्रीत गोनी

भारतीय क्रिकेटर मनप्रीच

रूपनगर, पंजाब के 37 वर्षाय तेज़ गेंदबाज़ मनप्रीत  सिंह गोनी ने भारतीय टीम के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर केवल 2 ही वन-डे मैच खेले हैं. इन दोनों मैचों में उनकी गेंदबाज़ी बेहद औसत दर्जे की रही है. 2008 के एशिया कप में खेले 2 मैचों गोनी केवल 2 ही विकेट ले पाए  थे.

इसके अलावा घरेलू क्रिकेट में भी 196 फ़र्स्ट-क्लास, 77 लिस्ट-ए और 97 घरेलू टी20 विकेट ही उनके नाम दर्ज. आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलने वाले गोनी को आईपीएल में औसत प्रदर्शन के बावजूद टीम इंडिया में केवल इसी लिए जगह मिली क्योंकि महेंद्र सिंह धोनी सीएसके के कप्तान है.

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse