महेंद्र सिंह धोनी ने कप्तानी की एक अलग मिसाल पेश की है : मुरली विजय 1

भारतीय टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज मुरली विजय ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की तारीफों के पुल बांधे और उनकी कप्तानी की जमकर तारीफ की. 4 जनवरी को महेंद्र सिंह धोनी ने टेस्ट की तरह अचानक सीमित ओवेरों की कप्तानी छोड़कर सबको चौंका दिया.

भारत के सलामी बल्लेबाज मुरली विजय ने इंग्लैंड के खिलाफ हुए टेस्ट सीरीज में शानदार बल्लेबाजी करते हुए टीम को जीत दिलवाने में अहम भूमिका निभाई है. मुरली विजय ने टेस्ट क्रिकेट में 2008 में धोनी की कप्तानी में पदार्पण किया था और उसके बाद उनके ही अंडर में आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स टीम के साथ धोनी की कप्तानी में ही खेले हैं.

यह भी पढ़े : PHOTOS: पत्नी निकिता के साथ न्यू इयर सेलिब्रेट करने मालदीव पहुंचे मुरली विजय

धोनी के बारे में मुरली विजय ने कहा,

महेंद्र सिंह धोनी ने कप्तानी की एक अलग मिसाल पेश की है : मुरली विजय 2

“हमारे बीच लॉर्ड्स और नोटिंगघम में काफी अच्छी साझेदारी हुई है. स्थिति को समझने में धोनी को कभी भी वक़्त नहीं लगा और उन्होंने फिर उसी हिसाब से मैदान पर प्रदर्शन किया. एक कप्तान के तौर पर धोनी ने एक अलग मिसाल पेश की है, जो हर कोई नहीं कर सकता है. उनका शांत मिजाज उन्हें सबसे अलग बनाता है.”

टाइम्स ऑफ इंडिया से इंटरव्यू के दौरान विजय ने कहा,

“बल्लेबाजी करते समय माही खिलाड़ियों से बातचीत करते रहते हैं, जिसके चलते नए और युवा खिलाड़ियों को इसका लाभ मिलता है और उन्हें समस्या नहीं होती है. किस खिलाड़ी को कैसे और कहाँ उपयोग करना है, उनसे बखूबी कोई नहीं समझ सकता है. उन्होंने भारतीय क्रिकेट को जो दिया है और जो प्लेटफार्म तैयार किया है. वह काबिले तारीफ है.”

यह भी पढ़े : चेन्नई टेस्ट में ऐतिहासिक जीत के बाद मुरली विजय ने किया कुछ ऐसा जिसने वहा मौजूद सभी दर्शकों का दिल जीत लिया

धोनी इंडिया ए टीम की कप्तानी करते हुए आखिरी बार नजर आयेंगे और इंग्लैंड के सामने 9 जनवरी को टीम की अगुवाई करेंगे. उनके चाहने वाले उन्हें एक कप्तान के रूप में आखिरी बार देखेंगे.