महेंद्र सिंह धोनी के बल्लेबाजी 2016 के बाद हो गयी है धीमी, आ

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

2016 के बाद से ही महेंद्र सिंह धोनी करने लगे हैं धीमी बल्लेबाजी, देखें आंकड़े 

2016 के बाद से ही महेंद्र सिंह धोनी करने लगे हैं धीमी बल्लेबाजी, देखें आंकड़े

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी पर पिछले कुछ सालो में एक बड़ा सवाल उठता रहा है. वो उनकी धीमी बल्लेबाजी को लेकर उठा है. जिसके लिए उन्हें फैन्स की आलोचना भी झेलनी पड़ी थी. अब आंकड़े को देखकर एक बात नजर आ रही है ककि जो सवाल उठ रहे हैं. उनमें सच्चाई कितनी है.

महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी हुई धीमी

2016 के बाद से ही महेंद्र सिंह धोनी करने लगे हैं धीमी बल्लेबाजी, देखें आंकड़े 1

जब भारतीय टीम के लिए महेंद्र सिंह धोनी ने खेलना शुरू किया तो उस समय उनकी पहचान एक आक्रामक बल्लेबाज के रूप में होती थी. जो किसी भी समय में बड़े शॉट खेलने की क्षमता रखता था. लेकिन जिस तरह से समय बिता धोनी की बल्लेबाजी धीमी होती गयी. लेकिन बड़े शॉट खेलने के कारण वो डॉट बॉल की संख्या पर किसी क्रिकेट एक्सपर्ट का ध्यान नहीं गया.

धीमी बल्लेबाजी करके अंत में समय में तेजी से रन बना कर आंकड़े सही कर लेते थे. जो नजर आता है. 2011 से लेकर 2015 के बीच में धोनी ने 47.96% डॉट बॉल खेली थी. लेकिन उस बीच उनपर सवाल नहीं उठे लेकिन 2016 से जब वो कई बार आक्रामक अंत करने में सफल नहीं हुए तो डॉट बॉल पर उनके सवाल खड़े होने लगे. जो अब नजर आते हैं.

आक्रामक अंदाज में पारी का अंत नहीं कर रहे हैं महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी

इस दिग्गज बल्लेबाज ने 2016 के बाद से एकदिवसीय फ़ॉर्मेट में 51.19% डॉट बॉल खेली है. पिछले कुछ समय में बढ़ते उम्र के कारण वो मन मुताबिक अपने पारी का अंत करने में असफल रहे तो उनपर सवाल उठते हैं. विश्व कप 2019 के बाद से महेंद्र सिंह धोनी ने भारतीय टीम के लिए नहीं खेला था.

उम्मीद थी की आईपीएल 2020 में वो अच्छा प्रदर्शन करके भारतीय टीम में अपनी वापसी के दरवाजे खोल लेंगे. लेकिन अब कोरोना वायरस के कारण आईपीएल रद्द होने का डर है. ऐसे में अब कहा जा रहा है की महेंद्र सिंह धोनी का भारतीय टीम के लिए करियर अब लगभग ख़त्म हो चूका है. जल्द ही धोनी अपने संन्यास पर फैसला भी ले सकते हैं.

कोरोना वायरस के कारण नहीं खेला जा रहा है क्रिकेट

ईडन गार्डन्स

मौजूदा समय में क्रिकेट नहीं खेली जा रही है. जिसका सबसे बड़ा कारण है कोरोना वायरस. इस वायरस के डर के वजह से लोग अपने घरो में कैद हो गये हैं और घरो से बाहर नहीं निकल रहे हैं. कई महत्वपूर्ण सीरीज स्थगित कर दिया गया है. जबकि क्रिकेट की सबसे बड़ी लीग आईपीएल पर भी इस वायरस के कारण रद्द होने का खतरा मंडरा रहा है.

Related posts