एम.एस.धोनी खेलेंगे झारखंड के लिए विजय हजारे ट्राफी | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

एम.एस.धोनी खेलेंगे झारखंड के लिए विजय हजारे ट्राफी 

एम.एस.धोनी खेलेंगे झारखंड के लिए विजय हजारे ट्राफी

भारतीय टीम के लिमिटेड ओवर्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अगले साल होने वाली चैंपियंस ट्राफी से पहले खुद को फिट और अपनी फॉर्म को बरक़रार रखने के लिए अब घरेलू क्रिकेट में वापसी को तैयार है.

धोनी अब अगले साल होने वाली विजय हजारे ट्राफी में झारखंड के लिए खेलेगे. धोनी इस समय भारतीय टीम के न्यूजीलैंड के साथ एकदिवसीय श्रृंखला में व्यस्त है. धोनी ने भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले गये मोहाली वनडे के बाद अपने आने वाले कार्यक्रम का खुलासा किया. धोनी के अनुसार चैंपियंस ट्राफी से पहले वो ज्यादा प्रैक्टिस के लिए घरेलू क्रिकेट खेलेंगे.

साथ ही धोनी ने कहा, कि मोहाली वनडे में शानदार जीत के बात धोनी ने खोला जाधव की गेंदबाज़ी का राज़

”आने वाले वक़्त में टीम इंडिया को सिर्फ कुछ ही वनडे मैच खेलने है, जिसमे न्यूजीलैंड के साथ कुछ मुकाबले और इंग्लैंड के साथ होने वाले 3 एकदिवसीय मैच शामिल है. इस बीच टीम को 3 ट्वेंटी-20 मैच भी खेलने है. तो आने वाले समय में हमारे पास बेहद ही कम मुकाबले है खेलने के लिए. जिसको देखते हुए मैंने यह फैसला लिया है कि मैं अब झारखंड के लिए रणजी ट्राफी और विजय हजारे ट्राफी के एकदिवसीय मैच खेलूँगा. भारतीय टीम को अभी आने वाले टाइम में बहुत मैच खेलने है पर उन में मेरे लिए बहुत कम मैच है ,जिसको देखते हुए में अब घरेलू क्रिकेट में खेलूँगा ताकि खुद को फिट रख सकू.”

 धोनी ने अभी कीवी टीम के विरुद्ध मोहाली वनडे में खुद को ऊपर प्रोमोट कर जिस अंदाज़ में भारत के लिए बल्लेबाजी की वह लाजवाब थी. इससे पहले टीम के लिए धोनी काफी नीचे खेलने आ रहे थे, जिस कारण टीम को भी बेहतर परिणाम नही मिल पा रहे थे. किन्तु जिस प्रकार एम.एस. ने मोहाली में खुद ऊपर बैटिंग करने का निर्णय लिए और टेस्ट कप्तान विराट कोहली के साथ जो साझेदारी की वह सचमुच शानदार थी. महेंद्र सिंह धोनी ने पी.सी.ए स्टेडियम में चोथे कर्म पर खेलते हुए बढ़िया 80 रनों की पारी खेली जिसके लिए उन्होंने 91 गेंदों का सामना किया और पारी के दौरान 6 चोक्के और 3 आसमानी छक्के भी जड़े.

धोनी ने खुद को नंबर चार पर प्रोमोट करने के बाद यह टिपण्णी की, कि-

”मैंने जो रन बनाये उससे मैं खुश हूँ (मैं फिर से ऐसी ही पारियां खेलना चाहता हूँ).आज मैं अपने आप को व्यक्त नही कर पा रहा हूँ. पांचवे या छटे कर्म पर खेलते हुए ऐसा कभी ही हुआ. लोअर आर्डर में खेलते हुए मुझे हमेशा खुद को रोकना पढ़ता है. तब आपको लगातार स्ट्राइक बदलनी पद्धति है. पर आज ऐसा नही हुआ आज की पारी से मुझे काफी अच्छा एहसास हुआ है. मैं टीम के लिए ऐसा ही खेलना चाहता हूँ.”

धोनी ने अपनी बढाती उम्र के बारे में भी कहा उनके अनुसार जब उम्र बढ़नी लगती है तब आपके रिफ्लेक्स काफी अलग हो जाते है, खेलने का तरीका भी थोडा बदल जाता है. चैंपियंस ट्राफी को देखते हुए कप्तान धोनी अपने आप को एक नये कर्म पर या टीम के लिए एक नई और बेहतर बैटिंग लाइन उप बना सकते है. भारत को न्यूजीलैंड के साथ अभी 2 वनडे खेलने है जिसके बाद इंग्लैंड के साथ 3 वनडे और इतने ही t-20 भी.

यह भी पढ़े: एमएस धोनी ने किया खुलासा कौन है बेहतर सचिन या कोहली?

जिसे देखते हुए धोनी के पास एक आछा मौका है झारखंड के लिए विजय हजारे ट्राफी में खेलना और टीम के लिए रन बनाना और खुद को भी वनडे मुकाबलों के लिए फिट रखना. पिछले साल झारखंड की टीम विजय हजारे ट्राफी के क्वार्टर फाइनल तक जा स्की थी इसलिए अबकी बार टीम के पास धोनी के आ जाने से अच्छा करना का मौका है.

ट्राफी 25 फरवरी से लेकर मार्च 15 तक होने वाला है, और धोनी का अंतररास्ट्रीय सत्र 1 फरवरी को समाप्त हो जायेगा. जिसके बाद वो झारखंड के लिए खेलेंगे. 1 जून से 18 जून तक इंग्लैंड में चैंपियंस ट्राफी खेली जयेगी.

 

Related posts