Ms Dhoni On Rajvardhan Hangargekar
Ms Dhoni On Rajvardhan Hangargekar

Ms Dhoni: आईपीएल 2022 में चेन्नई सुपर किंग्स का सफर लीग स्टेज के मुकाबले तक ही सीमित रहा. लीग स्टेज के अपने आखिरी मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स को राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ शुक्रवार को 5 विकेट से हार का सामना करना पड़ा. इस सीजन चेन्नई सुपर किंग्स ने कुल 14 मुकाबले खेले, जिसमें महज चार मुकाबले में टीम को जीत मिली जबकि 10 मुकाबलों में हार का मुंह देखना पड़ा. यह आईपीएल के इतिहास में पहली बार था, जब चेन्नई ने एक सीजन में 10 मैच हारे. वहीं, चेन्नई सुपर किंग्स के एक खिलाड़ी को इस सीजन खेलने का मौका नहीं मिला. इस सदर्भ में एमएस धोनी (Ms Dhoni) ने उन्हें मौका नहीं देने की वजह बताई.

Ms Dhoni ने बताया, इस वजह से नहीं मिला मौका

Ms Dhoni On Rajvardhan Hangargekar
Ms Dhoni On Rajvardhan Hangargekar

दरअसल, आईपीएल के 15वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स का प्रदर्शन भले ही ख़राब रहा हो लेकिन टीम ने कई युवा खिलाड़ियों को प्लेइंग-11 में मौका दिया. इस बीच एक खिलाड़ी ऐसा रहा जिसे एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला. यह खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि अंडर-19 विश्व कप में भारतीय टीम का हिस्सा रहे तेज गेंदबाज राजवर्धन हैंगरगेकर हैं. वहीं, चेन्नई सुपर किंग्स के लीग स्टेज के आखिरी मुकाबले में एमएस धोनी ने उन्हें मौका नहीं देने की वजह बताई.उन्होंने (Ms Dhoni) कहा,

‘वह ऐसे गेंदबाज हैं जो अच्छी लेंथ से गेंदबाजी करते हैं. उनकी गेंद में उछाल है लेकिन इस तरह के स्तर पर प्रदर्शन करने के लिए उन्हें कुछ अन्य क्षेत्रों में सुधार करने के लिए भी समय दिया जाए. जब आप अंडर-19 से आए हो तो आपने बहुत अधिक फर्स्ट क्लास क्रिकेट नहीं खेली है. तो आप उन्हें ऐसे में अंदर फेंकना नहीं चाहते हैं. क्या होगा अगर आप दबाव में हैं. हम खिलाड़ियों को तैयार करने और उन्हें आगे ले जाने के लिए प्रर्याप्त अवसर देना चाहते हैं.’

‘हम उनकी प्रतिभा के साथ खिलवाड़ नहीं कर सकते’

Ms Dhoni On Rajvardhan Hangargekar
Ms Dhoni On Rajvardhan Hangargekar
वहीं, एमएस धोनी ने राज्यवर्धन हैंगरगेकर के सन्दर्भ में टीम के गेंदबाजी कोच स्टीफेन प्लेमिंग से बातचीत भी की. इस दौरान धोनी ने हैंगरगेकर की तारीफ की लेकिन वह उन्हें और अच्छा प्रदर्शन करने का सुझाव देते हुए दिखे. एमएस धोनी ने कहा,
‘राजवर्धन हैंगरगेकर को लेकर हम वास्तव में उत्साहित हैं, क्योंकि वह काफी मजबूत हैं. लेकिन कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जहां हम चाहते हैं कि वह सुधार करें. इस सत्र में यही सब रहा है. उनके साथ कोच और सीनियर खिलाड़ियों ने काम किया है. हम हैंगरगेकर की प्रतिभा के साथ खिलवाड़ नहीं कर सकते. इतने बड़े मंच पर हम उन्हें अंदर नहीं फेंक सकते.’

Ankit Kunwar

Sports Journalist At Sportzwiki || Sr. Content Editor || Content Producer