महेंद्र सिंह धोनी या रिकी पोंटिग, कौन बेहतर वनडे कप्तान? माइक हसी ने दिया जवाब

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

महेंद्र सिंह धोनी या रिकी पोंटिग, कौन है बेहतर वनडे कप्तान? माइक हसी ने दिया जवाब 

महेंद्र सिंह धोनी या रिकी पोंटिग, कौन है बेहतर वनडे कप्तान? माइक हसी ने दिया जवाब

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की गिनती दुनिया के सबसे बेहतरीन कप्तान में की जाती है। उन्होंने अपनी कप्तानी में आईसीसी की तीनों ही टूर्नामेंट को अपने नाम किया है। आईपीएल में भी उनकी कप्तानी बेहतरीन रही है। चेन्नई सुपर किंग्स अभी तक खेले अपने घर सीजन में प्लेऑफ तक पहुंची है।

पोंटिंग सबसे सफल कप्तान

महेंद्र सिंह धोनी या रिकी पोंटिग, कौन है बेहतर वनडे कप्तान? माइक हसी ने दिया जवाब 1

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग इंटरनेशनल क्रिकेट के सबसे सफल कप्तान हैं। उनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलया ने दो विश्व कप के साथ ही दो चैंपियंस ट्रॉफी पर भी कब्जा जमाया था। टेस्ट में भी काफी समय उनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया नंबर एक पर रही।

टेस्ट, वनडे और टी-20 मिलाकर उनकी कप्तानी में टीम को 220 मैचों में जीत हासिल की है। वह वनडे में भी दुनिया के सबसे सफल कप्तान हैं। दुनिया के किसी भी बेहतरीन कप्तान की तुलना उन्हीं से की जाती है।

कौन बेहतर कप्तान?

महेंद्र सिंह धोनी या रिकी पोंटिग, कौन है बेहतर वनडे कप्तान? माइक हसी ने दिया जवाब 2

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज माइक हसी से यह सवाल पूछा गया। हसी ने धोनी की कप्तानी में आईपीएल खेला है वहीं अपना लगभग पूरा इंटरनेशनल क्रिकेट ही उन्होंने पोंटिंग की कप्तानी में खेला है। ईएसपीएन क्रिकइन्फो में जब उनसे पूछा गया कि धोनी और पोंटिंग में बेहतर वनडे कप्तान कौन है तो माइक हसी ने कह

“यह मुश्किल सवाल है, ठीक है, मुझे कहना होगा, रिकी। मैंने एमएस धोनी के साथ वनडे में कभी नहीं खेला, इसलिए मैं रिकी के साथ जाऊंगा।”

ऐसा रहा करियर

महेंद्र सिंह धोनी या रिकी पोंटिग, कौन है बेहतर वनडे कप्तान? माइक हसी ने दिया जवाब 3

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट इतिहास के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में शामिल माइक हसी 2005 से 2013 तक टीम का महत्वपूर्ण अंग थे। वह विश्व कप 2007 की विजेता टीम का हिस्सा भी रहे थे। ऑस्ट्रेलिया के लिए 79 टेस्ट, 185 वनडे और 38 टी-20 मैच खेलने वाले हसी के नाम 12 हजार से ज्यादा इंटरनेशनल रन हैं।

चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें आईपीएल 2008 में ही अपने साथ जोड़ा था। वह चेन्नई के लिए शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज भी हैं। आईपीएल 2010 और 2011 की विजत चेन्नई टीम का वह हिस्सा भी थे। वर्तमान समय में वह चेन्नई के सपोर्ट स्टाफ का हिस्सा भी हैं।

Related posts