राहुल एक सम्पूर्ण क्रिकेटर है : महेंद्र सिंह धोनी

sagar mhatre / 28 August 2016

वेस्टइंडीज के खिलाफ फ्लोरिडा में हुए पहले टी ट्वेंटी मैच में भारतीय टीम 1 रन से भले ही हारी हो, लेकिन भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने लोकेश राहुल को एक परिपूर्ण क्रिकेटर कहा हैं. लोकेश राहुल ने टी ट्वेंटी क्रिकेट का दुसरा सबसे तेज शतक लगाया, और नाबाद 110 रनों की पारी खेली.

महेंद्र सिंह धोनी ने मैच के बाद कहा कि, “राहुल लगातार निरंतरता से रन बना रहे हैं. राहुल मैदान के हर जगह से शॉट लगाते हैं, जैसे मिड अॉफ, कवर, मिड अॉन और वे एक परिपूर्ण खिलाड़ी हैं. ये उनके लिए शुरूआत हैं, लेकिन जिस तरह से पिछले 6 महीनों से राहुल खेल रहे हैं, वो काफी शानदार हैं.”

यह भी पढ़े : बीसीसीआई ने धोनी की जगह बनाया विराट को टी-20 कप्तान

राहुल की पारी के बदौलत भारत आखिर तक मैच में जीतने का दावेदार था, और भारत को आखिरी ओवर में जीतने के लिए 8 रन चाहिए थे. लेकिन ड्वेन ब्रावो ने कमाल करते हुए शानदार गेंदबाजी की, और भारत के हाथों से जीत छिन ली.

धोनी ने कहा कि, “आखिरी गेंद तक हमारा पलड़ा भारी था, और सोच हमारी सहीं थी, लेकिन शॉट गलत था. ब्रावो डेथ ओवरों में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज हैं, और उनका अनुभव ही हमारे उपर भारी पड़ा हैं.”

उनकी गेंदों पर आप ये नहीं सोच सकते, कि आप ऐसा शॉट खेलेंगे, क्योंकि वे अपनी गेंदबाजी शैली से बल्लेबाजों को परेशान करते हैं.

यह भी पढ़े : ट्विटर प्रतिक्रिया : राहुल के शतक पर भारी पड़ा ब्रावो का आख़िरी ओवर

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भारतीय गेंदबाजों का बचाव किया हैं. वेस्टइंडीज का स्कोर एक समय 11 ओवर में 1 विकेट पर 164 रन था.

धोनी ने कहा कि, “हमने पहले 12 ओवर में काफी ज्यादा रन दे दिए थे. लेकिन मुझे इस बात की खुशी हैं, कि हमारे गेंदबाजो ने आखिरी 8 ओवर में उनको ज्यादा रन बनाने नहीं दिए, क्योंकि हमारी जो कमजोरी थी, उसमे हमने कल अच्छा किया.”

ये विकेट ऐसा था कि, जहां एक गेंदबाज ये सोच सकता हैं, कि 4 ओवर में 40 रन देकर अगर आपको 1 या 2 विकेट मिल जाए तो काफी बेहतर प्रदर्शन होगा. और आपको विकेट को देखकर गेंदबाजी करनी होती हैं.

यह भी पढ़े : भारत बनाम वेस्टइंडीज टी-ट्वेंटी, फ्लोरिडा : पहले टी-ट्वेंटी में हुई रिकार्ड्स की बारिश

धोनी ने कहा कि, “ये एक शानदार क्रिकेट स्टेडियम हैं. यहां पर जो सुविधा हमे मिली हैं वो दुनिया में ज्यादा स्टेडियमों में नहीं मिलती. यहां पर दर्शकों की क्षमता 15 हजार हैं, जो एक अच्छा हैं. भारतीय दर्शक यहां हमे देखकर काफी खुश हैं.”

Related Topics