धोनी की वजह से पड़ रहा है भारतीय टीम पर गलत प्रभाव: इयान चैपल | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

धोनी की वजह से पड़ रहा है भारतीय टीम पर गलत प्रभाव: इयान चैपल 

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज इयान चैपल ने भारतीय वनडे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर तीखा हमला करते हुये उन्हें कप्तानी पद छोड़ने को कहा है, ऑस्ट्रलियाई कप्तान ने कहा धोनी की वजह से भारतीय टीम को वनडे में हार का सामना करना पड़ा. चैपल ने यहाँ तक कहा, कि इससे भारतीय टीम पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है.

धोनी की वजह से पड़ रहा है भारतीय टीम पर गलत प्रभाव: इयान चैपल 1

चैपल ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो में अपने कालम में लिखा है, ‘‘कप्तानों का प्रभाव कुछ निश्चित समय तक होता है जिसके बाद टीम के प्रदर्शन पर उनका प्रभाव खत्म हो जाता है और और उनकी उपस्थिति से टीम को नुकसान पहुंचता है. महेंद्र सिंह धोनी इस स्थिति में कुछ समय पहले पहुंच गये थे.”

उन्होंने आगे कहा:

“वर्तमान भारतीय टीम को नये विचारों और उत्साह की सख्त जरूरत है. जब विरोधी टीम चार वनडे पारियों में लगभग 1300 रन बना रही हो तो इसके लिये केवल सपाट पिचों और लचर गेंदबाजी को ही जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है. ’’

 

उन्होंने भारतीय कप्तान की कप्तानी शैली पर सवाल उठाते हुए कहा, कि-

“वर्तमान भारतीय टीम को नये विचारों और उत्साह की सख्त जरूरत है. जब विरोधी टीम चार वनडे पारियों में लगभग 1300 रन बना रही हो, तो इसके लिये केवल सपाट पिचों और लचर गेंदबाजी को ही जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है. ’’

न्होंने आगे कहा, कि-

‘‘मनुका ओवल में जहां उन्होंने रविंद्र जडेजा को मिशेल मार्श पर हावी होने के लिये कहा, तो उसे छोड़कर धोनी अपने गेंदबाजों को खास प्रेरित नहीं कर पाये. यह सही है कि वे अच्छी गेंदबाजी नहीं कर पाये लेकिन गेंदबाज क्षेत्ररक्षण की सजावट से भी प्रेरित नहीं थे. ’’

साथ ही उन्होंने बीसीसीआई को भी भारतीय युवा बल्लेबाज और टेस्ट कप्तान विराट कोहली के सिमित ओवरों के भी कप्तान बनाये जाने की वकालत कर डाला, चैपल ने बीसीसीआई को सुझाव देते हुए, लिखा, कि-

“ऐसा नहीं है कि भारत के पास विकल्प नहीं है. विराट कोहली ने खुद को आक्रामक कप्तान साबित कर दिया है और वह बल्लेबाजी में भी शानदार फार्म में है.’’

शुरुआत में भारतीय कप्तान धोनी द्वारा किये गये कप्तानी की तारीफ़ करते हुए, इस दिग्गज क्रिकेटर ने लिखा, कि-

“जब धोनी ने शुरूआत की थी तो वह सभी प्रारूपों में बेहद चतुर कप्तान थे और उन्हें खूब सफलताएं मिली. लेकिन जब कोई कप्तान अपने समय से अधिक पद पर बना रहता है तो उसका टीम पर गलत प्रभाव पड़ता है. ’’

Related posts

Leave a Reply