बांग्लादेश

भारतीय क्रिकेट टीम को सौरव गांगुली ने जल्द ही नई चयन समिति मिलने का इशारा किया था। जिसमें बीसीसीआई के नए अध्यक्ष सौरव गांगुली ने चयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद और उनकी टीम के कार्यकाल को आगे बढ़ाने से इनकार कर दिया था। लेकिन इसके बाद भी श्रीलंका के खिलाफ होने वाली टी20 सीरीज के लिए एमएसके प्रसाद एंड कंपनी ही टीम का चयन करेंगे।

एमएसके प्रसाद ही करेंगे श्रीलंका के खिलाफ टीम का चयन

बीसीसीआई सुप्रीम कोर्ट में लोढ़ा कमेटी की सुधार को लेकर दलीलों को सुनने के बाद नई क्रिकेट सलाहकार समिति के साथ ही चयन समिति का गठन करेंगी लेकिन इसको लेकर अभी कुछ इंतजार करना होगा।

भारतीय टीम

ऐसे में जनवरी में नई चयन समिति के गठन की संभावना है। इसी वजह से वर्तमान चयन समिति ही श्रीलंका के खिलाफ सीरीज के लिए टीम का चयन करेगी। वैसे सौरव गांगुली ने कुछ दिनों पहले ही कह दिया था कि एमएसके प्रसाद और बाकी चयनकर्ताओं का कार्यकाल खत्म हो गया है और आगे नहीं बढ़ाया जाएगा।

सौरव गांगुली के कार्यकाल पर भी कूलिंग अवधि में छूट की है मांग

लेकिन दूसरी तरफ पीटीआई की रिपोर्ट की माने तो बीसीसीआई के टॉप अधिकारी किसी भी तरह से इन कुछ बड़े फैसलों को लेने में जल्दबाजी नहीं दिखाएंगे और वो सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करेंगे। जिसके बाद ही इस तरह की घोषणा की जाएगी।

श्रीलंका सीरीज के लिए एमएसके प्रसाद ही चुनेंगे टीम, सामने आई वजह 1

श्रीलंका सीरीज के लिए एमएसके प्रसाद ही चुनेंगे टीम, सामने आई वजह 2

इसके अलावा बीसीसीआई ने अपनी दायर याचिका में सौरव गांगुली के कार्यकाल को लेकर भी कूलिंग अवधि में छूट मांगी है। आपको बता दें कि कूलिंग अवधि में वर्तमान संविधान के मुताबिक सौरव गांगुली को 10 महीनों के कार्यकाल के बाद पद छोड़ना होगा। जिसमें कोई अधिकारी बीसीसीआई या राज्य क्रिकेट संघ में दो या तीन साल से सेवा की हो वो तीन साल के लिए अनिवार्य रूप से कूलिंग ऑफ में चला जाएगा।

जनवरी से पहले सुप्रीम कोर्ट की सुनवायी मुश्किल

लेकिन बीसीसीआई चाहता है कि कूलिंग अवधि वाले बीसीसीआई के संविधान नियम में संशोधन किया जाए जिससे कि सौरव गांगुली फिलहाल कुछ समय तक बीसीसीआई के अध्यक्ष पद पर रह सके। लेकिन संशोधन के लिए कोर्ट की मंजूरी जरूरी है।

श्रीलंका सीरीज के लिए एमएसके प्रसाद ही चुनेंगे टीम, सामने आई वजह 3

सीएसी और चयन समिति की नई कमेटी के गठन को लेकर बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई से बात करते हुए कहा कि “ये संभावना नहीं है कि जनवरी में सुप्रीम कोर्ट की सुनवायी से पहले सीएसी का गठन किया जाएगा। इसलिए स्वाभाविक रूप से चयन समिति के गठ में भी कुछ समय लग सकता है। ये अभी स्पष्ट नहीं है कि नई चयन समिति या मौजूदा व्यक्ति ही न्यूजीलैंड दौरे तक टीम का चयन करेंगे।”